Top

TikTok की पेरेंट कंपनी ByteDance के बैंक अकाउंट फ्रीज, ये है वजह

भारत में टिकटॉक बैन होने के बाद बाइटडांस ने कर्मचारियों की संख्या कम कर दी । अब कंपनी में 1300 कर्मचारी काम करते है।

Suman

SumanBy Suman

Published on 31 March 2021 6:41 AM GMT

TikTok की पेरेंट कंपनी ByteDance के बैंक अकाउंट फ्रीज, ये है वजह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली भारत ने बड़ी कार्रवाई की है। सरकार ने चीनी कंपनी बाइटडांस के बैंक खातों को फ्रीज कर दिया है। कंपनी पर टैक्स चोरी का आरोप है। इस कार्रवाई के बाद कंपनी ने अब इसे चुनौती देते हुए अदालत से कहा है कि हमारे बैंक खातों को जल्द से जल्द शुरू किया जाना चाहिए नहीं तो हमारे व्यवसाय को भारी नुकसान होगा।


फैसले को चुनौती दें


बाइटडांस (ByteDance) ने सरकार के इस फैसले को चुनौती देते हुए मुंबई हाईकोर्ट से इस आदेश को जल्द से जल्द खारिज करने की गुहार लगाई। कंपनी ने कहा कि टैक्स विभाग के इस फैसले से उसके बिजनेस को नुकसान हो सकता है। यह दावा एक रिपोर्ट में है। भारत में टिकटॉक बैन होने के बाद बाइटडांस ने जनवरी में भारत में अपने कर्मचारियों की संख्या कम कर दी थी। हालांकि अभी भारत में कंपनी के 1300 के करीब कर्मचारी काम करते है।







टैक्स की चोरी


इस मामले से जुड़े दो सूत्रों ने बताया कि मार्च 2021 टैक्स अधिकारियों को बाइटडांस की भारतीय इकाई और सिंगापुर में मौजूद इसकी पेरेंट कंपनी टिकटॉक लिमिटेड (TikTok Pte Ltd) के बीच हुए ऑनलाइन एडवर्टाइजिंग डील में कथित तौर पर टैक्स की चोरी का पता चला था। इसके बाद अधिकारियों ने कंपनी के ( Citibank और HSBC )बैंक के अकाउंट को ब्लॉक करने का आदेश दिया था।बाइटडांस ने इस मामले को लेकर कोर्ट में चुनौती दी है जिसकी सुनवाई बॉम्बे हाईकोर्ट में होगी। इसमें बाइडांस इंडिया ने तर्क दिया है कि भारत द्वारा इस तरह की कार्रवाई करना कानूनी प्रक्रिया का दुरुपयोग है।

वेतन और टैक्स का भुगतान करना मुश्किल

खबरों के अनुसार दोनों बैंकों को अधिकारियों ने आदेश दिया कि वे बाइटडांस इंडिया को टैक्स आईडेंटिफिकेशन नंबर से लिंक किसी भी बैंक अकाउंट से पैसे नहीं निकालने दें। मुंबई हाईकोर्ट में बाइडांस इंडिया ने तर्क दिया है कि जब उसके खातों में केवल 10 मिलियन डॉलर हैं, तो ऐसे समय इस तरह का रोक लगाना गैरकानूनी है और इससे कर्मचारियों को वेतन और टैक्स का भुगतान करना मुश्किल हो जाएगा।

Suman

Suman

Next Story