×

LIC Jeevan Anand Policy: जानें एलआईसी जीवन आनंद पॉलिसी के फायदे, छोटी बचत कर पा सकते हैं लाखों के रिटर्न्स

LIC Jeevan Anand Policy: यह स्कीम पॉलिसीधारकों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के साथ ही उनके परिवार का आर्थिक भविष्य भी सुरक्षित रखने में मदद करता है।

Rajat Verma
Updated on: 22 Jun 2022 4:54 AM GMT
LIC Jeevan Anand Policy
X

एलआईसी जीवन आनंद पॉलिसी के फायदे (फोटो: सोशल मीडिया )

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

LIC Jeevan Anand Policy: एलआईसी जीवन आनंद पॉलिसी (LIC Jeevan Anand Policy) के तहत आप आसानी से छोटी बचत कर लाखों रुपए के बड़े रिटर्न्स प्राप्त कर सकते हैं, जो कि भविष्य में आपके सहारे के रूप में काम करेंगे। यह स्कीम लंबे समय अवधि के लिए है, जिसके चलते आप आसानी से अपनी योजना निर्धारित कर छोटी-छोटी राशि से निवेश शुरू कर सकते हैं। यह स्कीम पॉलिसीधारकों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के साथ ही उनके परिवार का आर्थिक भविष्य भी सुरक्षित रखने में मदद करता है। आसान शब्दों में कहें तो यह एक बेहद उच्च रिटर्न वाली पॉलिसी है।

जीवन आनंद स्कीम के तहत आप जितने लंबे समय अवधि के लिए अपनी पॉलिसी का चयन करेंगे आपको उतना ही अधिक रिटर्न प्राप्त होगा। उदाहरण के तौर पर यदि आप 35 साल की समय अवधि के लिए ₹1358 प्रति माह की दर से पॉलिसी का चयन करेंगे तो 35 साल पूरे होने पर आपको रिटर्न के तौर पर ₹25 लाख की राशि प्राप्त होगी। आपको बता दें की एलआईसी जीवन आनंद स्कीम के तहत आपको कम से कम 15 साल के लिए निवेश करना आवश्यक है, जिसके चलते आप आसानी से डबल बोनस का लाभ उठा सकते हैं। डबल बोनस में आपके द्वारा जमा किया गया मूल धन के अलावा रिविजनरी और एडिशनल बोनस प्राप्त होता है।

लोकप्रिय योजनाओं में से एक

जीवन आनंद एलआईसी की सबसे लोकप्रिय योजनाओं में से एक है, जिसके मद्देनज़र यह पॉलिसीधारक के जीवन भर के लिए पॉलिसी की अवधि पूरी होने के बाद भी जारी रहेगी। आप 15 वर्ष से लेकर 35 वर्ष की अवधि की पॉलिसी का चयन कर सकते हैं।

इस जीवन आनंद योजना के लिए न्यूनतम मूल बीमा राशि ₹1,00,000 होना आवश्यक है वहीं अधिकतम मूल बीमा राशि की कोई सीमा नहीं है। साथ ही इस योजना तहत पॉलिसीधारक बनने के लिए न्यूनतम आयु 18 वर्ष है और अधिकतम आयु 50 वर्ष है। एलआईसी के मुताबिक यह पॉलिसी विशेष रूप से लोगों को उनके बुढ़ापे का सहारा बनती है और रिटायरमेंट में आर्थिक सहायता करती है।

आपको बता दें कि यदि पॉलिसी की अवधि पूर्ण होम से पहले किन्हीं कारणवश पॉलिसीधारक की मृत्यु हो जाती है तो बीमा की राशि को एलआईसी द्वारा परिभाषित करके मूल बीमा राशि के 125 फीसदी से अधिक या वार्षिक प्रीमियम के 7 गुना से अधिक है उसके परिवार को प्रदान किया जाता है।

Monika

Monika

Next Story