×

Insurance Premium Payment: अब पैसे की कमी के कारण नहीं रूकेगा कार इंश्योरेंस का भुगतान, जानें कैसे

भारतीय बीमा विनियामक एवं विकास प्राधिकारण यानि इरडा इंश्योरेंस लेने वाले ग्राहकों के लिए एक नई सुविधा लेकर आई है, जिसके तहत आप बीमा के किस्त को एकमुश्त लोन के जरिए चुका सकते हैं।

Krishna Chaudhary
Updated on: 29 Jun 2022 3:37 PM GMT
Insurance Premium Payment
X

Insurance Premium Payment (Image credit: Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Insurance Premium Payment: आज लगभग हर इंसान भविष्य को ध्यान में रखते हुए अपना बीमा जरूर करवाता है। और यह जरूरी भी है। क्योंकि इससे आपके परिवार का भविष्य सुरक्षित हो जाता है। हालांकि, ऐसे कई मौके आते हैं, जब लोगों के पास पैसों का अभाव आता है। उनके पास इतना रकम नहीं होता कि वह बीमा के प्रीमियम का भुगतान कर सकें। आपको बता दें कि यदि आप वक्त पर इंश्योरेंस के प्रीमियम का भुगतान करने से चूकते हैं तो आपका बीमा रद्द हो सकता है। आप किस्त भरने के लिए लोन लेकर इस समस्या से निजात पा सकते हैं।

जी हां, आपने बिल्कुल सही पढ़ा, अब आप बीमे के प्रीमियम का भुगतान लोन के जरिए भी कर सकते हैं। भारतीय बीमा विनियामक एवं विकास प्राधिकारण यानि इरडा इंश्योरेंस लेने वाले ग्राहकों के लिए एक नई सुविधा लेकर आई है, जिसके तहत आप बीमा के किस्त को एकमुश्त लोन के जरिए चुका सकते हैं।

क्या है इरडा की योजना

इरडा की योजना है कि लोगों को इंश्योरेंस के प्रीमियम के एकमुश्त भुगतान के लिए लोन मिल जाए और वह बाद में किस्तों में इसका भुगतान कर दें। एकमुश्त भुगतान करने के बजाय ईएमआई में भुगतान हमेशा से आसान होता है। यही वजह है कि इरडा खुदरा और कॉरपोरेट दोनों तरह के ग्राहकों के लिए प्रीमियम फाइनेंस का प्रपोजल लाने पर विचार कर रहा है।

महंगा हो जाएगा बीमा

इरडा की नई सुविधा भले आपको लुभावना लगे लेकिन अत्यंत आवश्यक होने पर ही इसका इस्तेमाल करें। दरअसल, जब आप लोन लेकर इंश्योरेंस का प्रीमियम चुकाते हैं तो आपको लोन के लिए तमाम तरह के चार्ज देने होते हैं। आपको प्रोसेसिंग फीस, ब्याज, जीएसटी आदि देना पड़ेगा। यानि लोन लेकर बीमा किस्त चुकाने से आपके बीमा का प्रीमियम महंगा हो जाएगा। ऐसे में सोच – समझकर ही इस सुविधा का लाभ उठाएं।

Rakesh Mishra

Rakesh Mishra

Next Story