×

TRENDING TAGS :

Election Result 2024

Indian Stock Market Today: सेंसेक्स, निफ्टी रिकॉर्ड ऊंचाई पर, बीएसई इंडेक्स 73,745 पर पहुंचा

Indian Stock Market Today: भारतीय शेयर बाजार में जबर्दस्त तेजी का माहौल है। 1 मार्च को सेंसेक्स और निफ्टी ने अपनी रिकॉर्ड ऊंचाई को छू लिया और कारोबार खत्म होने पर दोनों सेंसेक्स अभूतपूर्व ऊंचाई पर बंद हुए।

Neel Mani Lal
Written By Neel Mani Lal
Published on: 1 March 2024 12:14 PM GMT
Sensex, Nifty at record high, BSE index reached 73,745
X

 सेंसेक्स, निफ्टी रिकॉर्ड ऊंचाई पर, बीएसई इंडेक्स 73,745 पर पहुंचा: Photo- Social Media

Indian Stock Market Today: भारतीय शेयर बाजार में जबर्दस्त तेजी का माहौल है। 1 मार्च को सेंसेक्स और निफ्टी ने अपनी रिकॉर्ड ऊंचाई को छू लिया और कारोबार खत्म होने पर दोनों सेंसेक्स अभूतपूर्व ऊंचाई पर बंद हुए। जहां बीएसई सेंसेक्स में करीब 1200 अंकों से ज्यादा की तेजी देखी गई, वहीं निफ्टी 300 अंकों से ज्यादा चढ़ा।

रिकॉर्ड ऊंचाई

1 मार्च को सेंसेक्स 1245 अंक बढ़कर 73,745 के अपने सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया, जबकि इसका एनएसई समकक्ष निफ्टी 344 अंक बढ़कर 22,327 अंक के अपने जीवनकाल के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया।

तेज घरेलू आर्थिक वृद्धि

आज की बाजार रैली में सेंसेक्स और निफ्टी के उछाल के पीछे मुख्य कारण पिछली तिमाही में उम्मीद से कहीं तेज घरेलू आर्थिक वृद्धि थी, जो विश्लेषकों की उम्मीदों से कहीं अधिक है। दोनों सूचकांकों पर सूचीबद्ध कंपनियों के कुल तेरह क्षेत्रों में से 10 ने बेहतरीन लाभ दर्ज किया।अधिक घरेलू स्तर पर केंद्रित छोटे और मध्य-कैप में 0.6 फीसदी की वृद्धि हुई, जो बेंचमार्क से कम प्रदर्शन कर रहा है। सेंसेक्स और निफ्टी के स्तर में वृद्धि भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि के कारण है, जो दिसंबर 2023 तिमाही में 8.4 प्रतिशत बढ़ी।

Photo- Social Media

इसके अलावा, वैश्विक बाजारों ने भी निवेशकों की धारणा को बढ़ावा देने में भूमिका निभाई। एसएंडपी 500 और नैस्डैक कंपोजिट रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचने के साथ वॉल स्ट्रीट बढ़त के साथ बंद हुआ। जापान का निक्केई भी एक नई रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया। विश्लेषकों ने कहा है कि इन-लाइन अमेरिकी मुद्रास्फीति रीडिंग ने बाजार में सकारात्मक भावना में योगदान दिया है क्योंकि इससे जून में फेडरल रिजर्व द्वारा दर में कटौती की संभावना बढ़ गई है।

विदेशी निवेशकों ने खरीदारी में गहरी दिलचस्पी दिखाई और 29 फरवरी को 3,568 करोड़ रुपये के शेयरों की शुद्ध खरीदारी की। इसके उलट घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 230 करोड़ रुपये के शेयर बेचे। फरवरी में विदेशी निवेशकों ने 5,107 करोड़ रुपये की भारतीय इक्विटी खरीदी, जबकि जनवरी महीने में 25,000 करोड़ रुपये से अधिक की निकासी हुई थी। पिछले एक दशक में, विदेशी निवेशक मुख्य रूप से मार्च में घरेलू शेयरों के खरीदार रहे हैं।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story