Top

कोरोना से भीषण तबाही: इन जिलों में लॉकडाउन का ऐलान, बढ़ते मामलों से बेकाबू हालात

महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और दिल्ली के बाद आब छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से आफत मची हुई है।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraPublished By Vidushi Mishra

Published on 11 April 2021 9:26 AM GMT

कोरोना से भीषण तबाही: इन जिलों में लॉकडाउन का ऐलान, बढ़ते मामलों से बेकाबू हालात
X

छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन (फोटो-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रायपुर। महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और दिल्ली के बाद आब छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से आफत मची हुई है। राज्य के कई जिलों में हालात हद से ज्यादा बिगड़ते जा रहे हैं। ऐसे में सख्त कदम उठाते हुए राज्य सरकार ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने और बेकाबू हालातों पर काबू पाने के लिए ३ जिलों में लॉकडाउन लगाने का ऐलान किया है। प्रदेश सरकार के फैसले के अनुसार, बिलासपुर, सरगुजा और सूरजपुर जिले में लॉकडाउन लगाया जाएगा। इसके तहत बिलासपुर में जहां 14 अप्रैल से लॉकडाउन लगेगा, वहीं सूरजपुर और सरगुजा में 13 अप्रैल से ही पूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। इस आदेश के अनुसार, इस दौरान केवल इमर्जेंसी सेवाओं की ही छूट दी जाएगा। वहीं लोगों की आवाजाही पर पूरी तरह से पाबंदी रहेगी।

बीते कई दिनों से छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। ऐसे में बिगड़ते हालातों को देखते हुए सरकार ने पहले ही 4 जिलों में लॉकडाउन लगा दिया है। इसमें रायपुर समेत प्रदेश के 4 जिलों में अभी लॉकडाउन है। जिसके चलते संक्रमण की रोकथाम के लिए आज और 3 जिलों में लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। जबकि सरकार के आदेशों के तहत आगामी 14 अप्रैल से प्रदेश के 7 जिलों में पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की गई है।


कोरोना वायरस की दूसरी लहर छत्तीसगढ़ के लिए तबाही होती जा रही है। राज्य में रोजाना कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। जिसके चलते संक्रमण की वजह से अब तक प्रदेश में 4654 लोगों की मौत हो चुकी है। अभी तक प्रदेश में कोरोना के 68125 से ज्यादा एक्टिव मरीज हैं।

सामने आई खबरों के अनुसार, इनमें से 2800 से अधिक को ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है। वहीं बढ़ते मामलों की वजह से अस्पतालों में बेड कम पड़ने से स्थितियां विकराल होती जा रही हैं। लेकिन स्वास्थ्य विभाग संक्रमण से निपटने के लिए भरपूर कोशिशों में लगा हुआ है पर फैलते संक्रमण की वजह से हालातों नाजुक ही होते जा रहे हैं।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story