Top

छत्तीसगढ़ सरकार ने सभी निर्माण कार्य रोके, अब सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर गरमाई सियासत

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल में नवा रायपुर में सभी बड़े निर्माण कार्यों पर रोक लगाने का आदेश जारी किया है।

Anshuman Tiwari

Anshuman TiwariWritten By Anshuman TiwariShreyaPublished By Shreya

Published on 13 May 2021 1:26 PM GMT

छत्तीसगढ़ सरकार ने सभी निर्माण कार्य रोके, अब सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर गरमाई सियासत
X

राहुल गांधी- भूपेश बघेल (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट (Central Vista Project) पर विपक्ष की ओर से केंद्र सरकार (Central Government) की घेरेबंदी के बीच छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार (Chhattisgarh Government) ने नवा रायपुर में सभी बड़े निर्माण कार्यों पर रोक लगाने का बड़ा फैसला किया है। राज्य की बघेल सरकार (Bhupesh Baghel Government) ने नवा रायपुर में निर्माणाधीन मुख्यमंत्री निवास (Chief Minister's Residence), राजभवन और मंत्रियों और अफसरों के बंगलों के निर्माण कार्य पर रोक लगा दी है। नई विधानसभा के लिए जारी निविदाओं को भी निरस्त कर दिया गया है।

राज्य सरकार का कहना है कि मौजूदा समय में हमारी पहली प्राथमिकता कोरोना वायरस (Corona Virus) से जंग लड़ना है। बघेल सरकार के इस फैसले के बाद कांग्रेस (Congress) ने सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट (Central Vista Project) को लेकर केंद्र सरकार की घेरेबंदी की है।

ठेकेदारों को तत्काल काम रोकने का निर्देश

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल में नवा रायपुर में सभी बड़े निर्माण कार्यों पर रोक लगाने का आदेश जारी किया है। सीएम के निर्देश के बाद लोक निर्माण विभाग ने भी सभी ठेकेदारों को तत्काल बंद काम बंद करने का निर्देश दिया है।

राज्य सरकार की ओर से इन बड़े निर्माण कार्यों के लिए 2019 में 25 नवंबर को भूमि पूजन किया गया था। उस कार्यक्रम में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने भी हिस्सा लिया था।

बड़ी तेजी से चल रहा था निर्माण कार्य

सरकार ने अगले विधानसभा चुनाव से पहले इस प्रोजेक्ट को पूरा करने का लक्ष्य रखा था और यही कारण था कि निर्माण कार्य बड़ी तेजी से चल रहा था। कोरोना महामारी के बाद राज्य सरकार पर आर्थिक दबाव बढ़ा है और ऐसे में इस बड़े प्रोजेक्ट को लेकर सवाल भी उठाए जा रहे थे। नवा रायपुर के सेक्टर 19 में विधानसभा की नई इमारत के लिए पूर्व में जारी निविदाओं को भी राज्य सरकार ने निरस्त कर दिया है।

भाजपा के हमले के बाद लिया बड़ा फैसला

माना जा रहा है कि निर्माण कार्यों को लेकर विपक्ष के हमले के बाद बघेल सरकार ने यह बड़ा फैसला किया है। भाजपा सांसद सुनील सोनी ने एक दिन पहले ही इस प्रोजेक्ट को लेकर सवाल उठाए थे। उनका कहना था कि सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर सवाल उठाने वाली सोनिया गांधी को पहले अपने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मंत्रियों के बंगले और भव्य विधानसभा के संबंध में सवाल पूछना चाहिए।

कांग्रेस ने केंद्र सरकार को घेरा

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की ओर से निर्माण कार्यों पर रोक का ट्वीट किए जाने के बाद कांग्रेस ने केंद्र सरकार की मंशा पर सवाल उठाए हैं। कांग्रेस के प्रवक्ता आरपी सिंह ने पीएम मोदी से पूछा है कि छत्तीसगढ़ सरकार ने तो बड़ा फैसला ले लिया है। क्या अब सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर रोक लगेगी? हालांकि भाजपा ने मुख्यमंत्री के इस फैसले को दो कदम आगे चलकर चार कदम पीछे चलने वाला फैसला बताया है।

सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर उठाए सवाल

भाजपा की प्रतिक्रिया पर कांग्रेस प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि इस संकट काल में लोगों के साथ खड़ा होना सरकार का दायित्व है। उन्होंने भाजपा नेताओं से सवाल किया कि संकट काल में जब लोग ऑक्सीजन व अन्य समस्याओं से जूझ रहे हैं तो सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर अभी तक रोक क्यों नहीं लगाई गई है।

माना जा रहा है कि छत्तीसगढ़ सरकार के इस कदम के बाद अब कांग्रेस की ओर से मोदी सरकार पर और तीखे हमले किए जाएंगे क्योंकि कांग्रेस सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट को रद्द करने की मांग पहले से ही करती रही है।

Shreya

Shreya

Next Story