Top

कोरोना का ऐसा प्रकोप, अब कचरे की गाड़ी में लादे जा रहे शव

छत्तीसगढ़ के राजनंदगांव से एक डरावनी तस्वीर सामने आई है। कोरोना मरीज के शवों को कचरा वाली गाड़ी में ले जाया जा रहा है

Ashiki

AshikiBy Ashiki

Published on 15 April 2021 9:33 AM GMT

Chhattisgarh corona virus
X

Photo- Social Media

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रायपुर: कोरोना की दूसरी लहर से जूझ रहे देश और दुनिया में हालात खराब हैं। भारत में आ रहे दैनिक आंकड़ों के साथ-साथ मौतों की संख्या और भी डराने लगी है। अस्पतालों में कोरोना मरीज के लिए बेड दवाईयां मिलना मुश्किल हो रहा है। वहीं श्मशान घाटों में लाशों के अंतिम संस्कार के लिए जगह नहीं बची। इस समय देश सबसे बुरे दौर में चल रहा है। इस बीच छत्तीसगढ़ के राजनंदगांव से एक बेहद ही डरावनी और अमानवीय खबर सामने आई है। यहां कोरोना मरीज के शवों को कचरा वाली गाड़ी में ले जाया जा रहा है।

कोरोना के चलते छत्तीसगढ़ में ऐसे हालात पैदा हो गए हैं कि यहां इस जानलेवा वायरस से जिन लोगों की मौत हुई उन्हें शव वाहन तक नहीं मिला। उनके शवों को नगर पंचायत के कचरा फेंकने वाले वाहन से ले जाया गया। तस्वीर में कुछ लोग पीपीई किट पहने कचरे की गाड़ी में शवों का लाते दिखे।

प्रेस क्लब ने कोविड केंद्र में बदला अपना परिसर

हालांकि राजनांदगांव जिले से एक अच्छी खबर भी आयी है। यहां बेड की कमी से निपटने के लिए प्रेस क्लब ने अपने परिसर को एक कोविड केंद्र में बदल दिया है जहां संक्रमितों का इलाज मुफ्त किया जा रहा है। प्रेस क्लब के सदस्यों ने उन रोगियों के लिए 30 बिस्तरों की व्यवस्था की है जो स्पर्शोन्मुख हैं। छत्तीसगढ़ के अस्पताल में बिस्तरों की कमी को देखते हुए यह फैसला लिया गया।


वहीं स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि छत्तीसगढ़ में बुधवार को 14,250 नए कोरोना मामले सामने आए थे और 120 से अधिक मौतें हुईं थीं, जिससे संक्रमितों की संख्या 4,86,244 हो गई है और मौत का आंकड़ा 5,307 हो गया है। राज्य में पिछले एक महीने में 1.68 लाख से अधिक मामले सामने आए और 1,417 मौतें हुई हैं।

Ashiki

Ashiki

Next Story