Top

मेरठ में खाकी की शर्मनाक करतूत, विधवा ने लगाया दुष्कर्म का आरोप

उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक महिला ने बुलंदशहर में तैनात एक दरोगा पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। विधवा महिला का आरोप है कि दरोगा ने पहले फेसबुक पर उससे दोस्ती करने के बाद शादी की। महिला ने एसएसपी आॅफिस पहुंचकर तहरीर देते हुए कार्रवाई करने की मांग की है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 20 Nov 2018 4:13 PM GMT

मेरठ में खाकी की शर्मनाक करतूत, विधवा ने लगाया दुष्कर्म का आरोप
X
प्रतीकात्मक फोटो
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठ : उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक महिला ने बुलंदशहर में तैनात एक दरोगा पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। विधवा महिला का आरोप है कि दरोगा ने पहले फेसबुक पर उससे दोस्ती करने के बाद शादी की। महिला ने एसएसपी आॅफिस पहुंचकर तहरीर देते हुए कार्रवाई करने की मांग की है।

ये है मामला

बुलंदशहर के खुर्जा कोतवाली में तैनात दरोगा पर विधवा महिला ने दष्कर्म का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि करीब छह माह पहले उसके पति की मौत हो गई थी। इसके बाद वह अपने परिवार के साथ भगवती कुंज में रह रही है।

आरोप है कि इस दौरान उसकी फेसबुक पर बुलंदशहर के खुर्जा कोतवाली में तैनात दरोगा श्रीचंद सोम के साथ संपर्क हुआ। महिला का आरोप है कि दरोगा ने उसके परिजनों की मर्जी के अनुसार करीब तीन माह पहले भगवती कुंज कॉलोनी में शादी की।

दरोगा ने उसे करीब पंद्रह दिनों तक अपने साथ रखा और उसके बाद उसे छोडकर चला गया। दरोगा मूल रूप से सरधना का बताया जा रहा है।

पीडिता महिला का आरोप है कि अब दरोगा उसे अपनाने से इंकार कर रहा है। उसे धोखे में रखकर दरोगा ने उसके साथ दुष्कर्म किया। शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी भी दे रहा है।

पीडिता महिला ने मामले की शिकायत एसएसपी आॅफिस पहुंचकर की है। एएसपी क्राइम सतपाल ने मामले में जांच कर दरोगा पर कार्यवाही करने के आदेश दिए है। फिलहाल इस संबंध में जांच की जा रही है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story