Top

पटाखा फैक्‍ट्री अग्निकांड से जागा प्रशासन, अवैध पटाखा कारोबारियों पर बड़ी कार्यवाही

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 27 Oct 2018 12:43 PM GMT

पटाखा फैक्‍ट्री अग्निकांड से जागा प्रशासन, अवैध पटाखा कारोबारियों पर बड़ी कार्यवाही
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सहारनपुर: बदायूं पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट से कई जान जाने के बाद सहारनपुर का स्थानीय प्रशासन भी नींद से जाग गया और महानगर में चल रहे अवैध पटाखा निर्माण कारोबार पर शनिवार को कई जगह छापामारी कर नकेल कसी गई। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की टीमों के एक साथ कार्रवाई पर अवैध कारोबारियों में हड़कंप मचा रहा। कई जगह से माल जब्त किया गया है।

ये भी देखें:शर्मनाक: घर में सो रही किशोरी को फुसला कर ले गए आरोपी, गैंगरेप कर तड़पता छोड़ा

सिटी मजिस्‍ट्रेट की अगुवाई में अभियान

बताते चलें कि शुक्रवार को बदायूं स्थित पटाखा फैक्ट्री में हुए भीषण विस्फोट के बाद आधा दर्जन से अधिक निर्दोषों की जान चली गई थी। वहीं कईं गंभीर जख्मी है जिनका अस्पतालों में उपचार चल रहा है। घटना के बाद शासन की नजर इस और टेढी हुई तो स्थानीय प्रशासन भी जाग गया। सहारनपुर में भी इस मामले में सोए पड़े प्रशासन की कुंभकरण की नींद खुली और शनिवार को नगर मजिस्ट्रेट शैरी के नेतृत्व में कोतवाली मंडी, कुतुबशेर, सदर बाजार पुलिस की टीमों ने अवैध कारोबारियों पर कड़ी कार्रवाई की। नगर मजिस्ट्रेट व सीओ प्रथम इंदू सिद्धार्थ के निर्देशन में कोतवाली मंडी पुलिस कोलागढ़ में बुद्धन और उसके पुत्र सलमान के ठिकाने पर छापामारी की।

ये भी देखें:इन ब्रांड्स के पहले वाले नाम सुनकर आपको भी आएगी हंसी, यहां देखें पूरी लिस्ट

करोड़ो का है अवैध पटाखा कारोबार

पुलिस के मुताबिक यहां से अवैध पटाखे का भंडारण कब्जे में लिया। क्षेत्र थाना कुतुबशेर होने के चलते आगे की कार्रवाई वही थाना पुलिस कर रही है। वहीं मानकमऊ में भी फल फूल रहे इस अवैध कारोबार पर नकेल कसी गई। कोतवाली मंडी पुलिस ने शहर के बड़े पटाखा कारोबारी दो भाइयों आसिफ, अमीर पुत्रगण अमीर अहमद निवासी आतिश बाजान शाहबहलोल के कंबोह पुल के साथ-साथ फतेह कॉलोनी और भैया बाग में भी स्थिति में मकानों पर छापामारी कर अवैध जखीरा बरामद किया है। इसी तरह मल्हीपुर रोड पर भी छापामारी हुई और अवैध भंडारण कब्जे में लिया गया।

ये भी देखें:दिल्ली में हवा की गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ की श्रेणी में

यह भी बताते चलें कि हर साल दिवाली के मौके पर महानगर में करोड़ों रुपए का पटाखों का कारोबार होता है। इसमें आधे से अधिक का अवैध कारोबार भी शामिल है।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story