Top

अलीगढ़ शराब कांड का असर, जिलों में ताबड़तोड़ छापेमारी, बहराइच में एक दिन में 24 गिरफ्तार

Aligarh Sharab Kand: अलीगढ़ में नकली शराब पीने से 28 लोगों की मौत के बाद बहराइच जिला प्रशासन ने अवैध शराब कारोबारियों पर शिकंजा कसा।

Anurag Pathak

Anurag PathakReporter Anurag PathakShivaniPublished By Shivani

Published on 30 May 2021 8:09 AM GMT

अलीगढ़ शराब कांड का असर, जिलों में ताबड़तोड़ छापेमारी, बहराइच में एक दिन में 24 गिरफ्तार
X

नकली शराब के लिए पुलिस दबिश 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Aligarh Sharab Kand: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में हुए शराब कांड के बाद सरकार से लेकर सभी जिला प्रशासन हरकत में आ गए। जिलों में पुलिस और प्रशासन के अधिकारी ताबड़तोड़ छापामारी अभियान चला रहे हैं। इसी कड़ी में बहराइच जिले में 24 घंटे के अंदर 24 लोगों की गिरफ्तारी की गई।

दरअसल, अलीगढ़ में नकली शराब पीने से 28 लोगों की मौत हो गई थी। मामले में कई अफसरों पर गाज गिरी। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस एक्शन में दिखी। इस प्रकरण के बाद बहराइच जिला प्रशासन भी हरकत में आ गया। जिला व पुलिस प्रशासन ने संयुक्त रूप से अभियान चलाकर अवैध शराब कारोबारियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। 24 घंटे के अंदर 105 जगहों पर छापेमारी कर 24 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि एक दुकान को सीज कर दिया गया है। इस कार्रवाई से अवैध शराब कारोबारियों में हड़कंप मचा हुआ है।

105 जगहों पर 23 थानों की पुलिस ने दी दबिश

डीएम शंभू कुमार व एसपी सुजाता सिंह ने जिले में अवैध शराब के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। एसपी ने बताया कि जिले में 105 जगहों पर 23 थानों की पुलिस ने दबिश डाली है। जहां से 513 लीटर अवैध शराब बरामद हुआ है, जबकि 1660 लीटर बरामद लहन को नष्ट कराया गया है। इस कार्रवाई में 24 लोगों की गिरफ्तारी की गई है, जबकि तीन भट्टियों को नष्ट कराया गया है।


रुपईडीहा थानाध्यक्ष अशोक सिंह ने बताया कि छापेमारी के दौरान देवरा चौराहे के लाइसेंसी बहादुर की देशी शराब की दुकान अवैध तरीके से सावनपारा मोड़ पर एक गुमटी में संचालित होती पाई गई। टीम ने तत्काल शराब को बरामद कर देवरा चौराहे की दुकान को सील कर दिया गया और लाइसेंसी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी है। एसपी ने बताया कि जिले में लगातार अवैध शराब कारोबारियों के खिलाफ अभियान चलता रहेगा।

जालौन में 400 लीटर कच्ची शराब जब्त

कच्ची शराब के सेवन से हो रही मौत के चलते उत्तर प्रदेश सरकार के सख्त निर्देश पर जालौन पुलिस-प्रशासन संग आबकारी विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए कबूतर डेरो पर छापेमारी की और 400 लीटर कच्ची शराब को जब्त कर लिया। मामला जालौन के थाना कदौरा मैं पढ़ने वाले बबीना का है, यहां उप जिलाधकारी क्षेत्राधिकारी प्रभारी निरीक्षक कदौरा जिला आबकारी विभाग के अधिकारियों के संग कबूतर डेरों पर छापेमारी करते हुए करीब 400 लीटर कच्ची शराब को बरामद किया।

वहीं जेसीबी मशीन से मिट्टी में दबी हुई दलहन को भी नष्ट कराया। पुलिस प्रशासन की कार्रवाई से जहां कबूतर डेरों में हड़कंप मच गया, तो वहीं कच्ची शराब का कारोबार करने वाले मौके से फरार हो गए। पुलिस एवं आबकारी विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जिले मे किसी भी कीमत पर अवैध कच्ची शराब का कारोबार नहीं होने दिया जाएगा। जो भी इस काम में लिप्त पाए जाएंगे, उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करके जेल की सलाखों के पीछे भेजा जाएगा।

चंदौली में शराब की दुकानों पर चेकिंग

चंदौली जिले के सकलडीहा तहसील अंतर्गत आने वाली शराब की दुकानों की उप जिला अधिकारी व आबकारी विभाग की संयुक्त टीम ने छापेमारी कर दुकानों में रखी गई शराब के स्टार्ट रजिस्टर की चेकिंग की। दोनो में अंतर पाए जाने पर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने दो दुकानों के खिलाफ कार्रवाई करने का आबकारी विभाग को निर्देश दिया।
इसी दौरान सकलडीहा के इटावा के पास लाइसेंसी शराब की दुकान पर एसडीएम व आबकारी विभाग की टीम ने पहुंचकर जब दुकान की चेकिंग की तो वहां स्टॉक में शराब की मात्रा अधिक लिखी गई थी, लेकिन मौके पर शराब की संख्या- बोतलों की संख्या कम मिली। इस संबंध में उप जिला अधिकारी प्रेम प्रकाश मीणा ने बताया कि सकलडीहा क्षेत्र के शराब की दुकान की चेकिंग की गई। जिसमें दो दुकानों में स्टॉक रजिस्टर में कमी पाई गई। शराबों में अंतर मिलने पर संबंधित के खिलाफ कारर करने का अबकारी विभाग को निर्देश दिया गया है।
Shivani

Shivani

Next Story