Top

Twitter पर योगी से लगाई शोहदों से बचाने की गुहार, पुलिस आई हरकत में

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 7 Jan 2018 3:08 PM GMT

Twitter पर योगी से लगाई शोहदों से बचाने की गुहार, पुलिस आई हरकत में
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुरादाबाद : उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शोहदों को रोकने के लिए बनाया गया एंटी रोमियो स्क्वॉयड पूरी तरह कागजी खानापूर्ति पर उतारू है। ताजा मामला मुरादाबाद का है। जहां शहर कोतवाली थाना क्षेत्र स्थित इम्पीरियल तिराहे पर दिन भर शराबियों ओर शोहदों का जमावड़ा लगा रहता है। दो दिन पहले शोहदों के बीच हुए झगड़े की वीडियो एक स्थानीय युवती द्वारा मुख्यमंत्री को ट्वीट करने के बाद मुरादाबाद पुलिस में हडकंप मचा हुआ है।

ये भी देखें :एंटी रोमियो स्क्वॉयड ने जब प्रेमी को कूटा तो प्रेमिका ने लिखा, ई यूपी का धरती प्रेम के लिए हराम है

युवती ने शोहदों का वीडियो बनाकर सीएम के ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया तो मुख्यमंत्री कार्यालय से पुलिस को कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए गए। जिसके बाद मुरादाबाद पुलिस कुम्भकर्णी नींद से जागी ओर पिछले चौबीस घंटे में दस से ज्यादा शोहदों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। शहर के सबसे व्यस्तम भीड़भाड़ वाले चौराहे पर अक्सर शराबियों ओर शोहदों का जमावड़ा लगा रहता है। इम्पीरियल तिराहे पर टैक्सी स्टैंड होने के चलते दिन के अधिकतर समय यहां टैक्सी चालक ओर शोहदे आती जाती महिलाओं ओर लड़कियों पर अश्लील कमेंट करते रहते है।

महिलाओं ओर युवतियों द्वारा कई दफा शिकायत करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई तो एक स्थानीय युवती द्वारा दो दिन पहले सड़क किनारे शराब पीकर लड़ाई कर रहे शोहदों का वीडियो बना लिया गया। जिसको युवती ने मुख्यमंत्री, एसपी सिटी ओर कई अधिकारियों के ट्विटर हैंडल पर पोस्ट कर शिकायत की।

ये भी देखें :योगी जी ! फेल हो गया आपका एंटी रोमियो, इज्जत के लिए छात्रा ने दे दी जान

युवती के ट्वीट करने के बाद हरकत में आई पुलिस अब शोहदों के खिलाफ अभियान छेड़े हुए है। पिछले चौबीस घंटे में इस जगह से दस से ज्यादा शोहदे गिरफ्तार किए गए है।

सवाल यह उठता है कि आखिर सीएम कार्यालय से शिकायत आने के बाद ही पुलिस सक्रियता दिखाती है। जबकि चौराहों पर शोहदों की करतूतों की शिकायत हर रोज पुलिस तक पहुंचती रहती है। समय रहते पुलिस ने शोहदों पर कार्रवाई की होती तो मुरादाबाद पुलिस को आज फजीहत नहीं झेलनी पड़ती।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story