Top

Bahadurgarh Crime News: किसान आंदोलन में बर्बरता, व्यक्ति को शराब पिला जिंदा जलाया

Bahadurgarh Crime News: किसान आंदोलनकारी ने एक व्यक्ति पर तेल छिड़ककर उसे आग के हवाले कर दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। फिलहाल आरोपी फरार है।

Network

NetworkNewstrack NetworkShreyaPublished By Shreya

Published on 17 Jun 2021 9:25 AM GMT

Bahadurgarh Crime News: किसान आंदोलन में बर्बरता, व्यक्ति को शराब पिला जिंदा जलाया
X

प्रतीकात्मक फोटो साभार- सोशल मीडिया

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Bahadurgarh Crime News: किसान आंदोलन (Kisan Andolan) से एक बर्बरता की खबर सामने आई है, जहां पर किसान आंदोलनकारियों ने एक व्यक्ति पर तेल छिड़ककर उसे आग के हवाले कर दिया। जिसके बाद उसे आनन फानन में अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया, लेकिन उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। इस घटना से मृतक के परिवार का रो रोकर बुरा हाल है। वहीं, घटनास्थल पर आरोपी का एक वीडियो भी सामने आया है।

बताया जा रहा है कि बहादुरगढ़ के बाईपास पर गांव कसार के निकट किसान आंदोलन में गए कसार निवासी मुकेश को पहले शराब पिलाई गई और फिर शहीद होने का नाम देकर उस पर तेल छिड़ककर आग लगा दी गई, जिससे उसकी मौत हो गई। जींद के एक आंदोलनकारी पर तेल छिड़ककर आग लगाने का आरोप है। फिलहाल हत्यारोपी फरार चल रहा है।

मामले की जांच में जुटी पुलिस

मृतक के भाई के बयान के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि आरोपी को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। हालांकि अभी तक हत्या के पीछे के कारणों का पता नहीं चल पाया है। शिकायत में जगदीश ने बताया कि उसका भाई मुकेश बुधवार शाम को घर से घूमने के लिए निकला था और गांव के पास ही बैठे किसान आंदोलनकारियों के पास पहुंच गया।

कसार निवासी मदन लाल पुत्र जगदीश ने बताया कि उन्हें फोन आया कि उनके भाई पर आंदोलनकारियों ने हत्या करने की नियत से तेल छिड़ककर आग लगी दी गई है। जिसके बाद वह तुरंत गांव के पूर्व सरपंच टोनी को लेकर मौके पर पहुंचे तब तक भाई मुकेश गंभीर रूप से झुलस गया था। उसे तुरंत सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालांकि हालत को गंभीर देख डॉक्टरों ने उसे रेफर कर दिया।

मृतक ने दिया ये बयान

इसके बाद मुकेश को ब्रह्मशक्ति संजीवनी अस्पताल लेकर जाया गया, जहां पर इलाज के दौरान रात को ही उसकी मौत हो गई। मुकेश दस साल की एक बेटी का पिता था। वहीं, इलाज के दौरान 42 वर्षीय मुकेश ने बताया था कि आंदोलन में एक कृष्ण नाम के व्यक्ति ने पहले उसे शराब पिलाई और फिर बाद में उसे आग लगा दी। जिससे वह बुरी तरह झुलस गया। इस मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है और आगे की कार्रवाई की जा रही है।

मामले में डीएसपी पवन कुमार ने बताया कि इस केस में पहले संदीप और कृष्ण के खिलाफ जान से मारने की कोशिश का केस दर्ज किया गया था, लेकिन मुकेश की मौत के बाद हत्या की भी धारा जोड़ दी गई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story