Top

Banda Crime News: पुलिस का अमानवीय चेहरा, प्राइवेट पार्ट में पेट्रोल डालकर पट्टे से की पिटाई

जनपद बांदा में पुलिस ने एक युवक को पुलिस चौकी ले जाकर उसके प्राईवेट पार्ट पर पेट्रोल डालकर पट्टों से पिटाई की। बाद में 151 का चालान करके छोड़ दिया।

Network

NetworkNewstrack NetworkShashi kant gautamPublished By Shashi kant gautam

Published on 6 July 2021 1:26 AM GMT

Banda Crime News: पुलिस का अमानवीय चेहरा, प्राइवेट पार्ट में पेट्रोल डालकर पट्टे से की पिटाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Banda Crime News: उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में पुलिस का अमानवीय चेहरा देखने को मिला। पुलिस ने एक युवक को पुलिस चौकी ले जाकर उसके प्राईवेट पार्ट पर पेट्रोल डालकर पट्टों से पिटाई की। बाद में 151 का चालान करके छोड़ दिया। अब पीड़ित युवक व परिवार इस कृत्य को करने वाले पुलिस वालों पर कार्रवाई की मांग को लेकर पुलिस अधीक्षक की देहरी पर पहुंचा है।

घटना तिंदवारी थाना के अमली कौर गांव की है। जहां रहने वाला राजा उर्फ ओमप्रकाश का कहना है कि गांव में पंचायत चल रही थी। जिसमें पुलिस वाले भी आए थे। वह पंचायत देखने के लिए खड़ा हुआ था। जिला पुलिस द्वारा सब को गाली गलौज करने पर उसने गाली देने का कारण पूछ लिया। इस पर पुलिस वाले उसे घसीटते हुए बेंदा चौकी ले गए। जहां एसआई रोशन गुप्ता व अन्य पुलिस वालों ने राजा के पीछे गुप्त पार्ट पर पेट्रोल डालकर पट्टों से पिटाई की।

पुलिस की दबंगई

एक सामान्य युवक के ऊपर थर्ड डिग्री का इस्तेमाल कहीं न कहीं पुलिस की दबंगई दिखाता है और पुलिस की भूमिका पर सवाल खड़ा करता है। पीड़ित युवक राजा का कहना है कि दबंग एसआई रोशन गुप्ता व पुलिस वाले उसको बेवजह अमानवीय तरीके से पीटते रहे और वह चीखता पुकारता रहा। सुबह उसको 151 का चालान कर छोड़ दिया गया। अब छूटने के बाद पीड़ित व उसके परिजनों ने पुलिस अधीक्षक से उक्त पुलिस वालों पर कार्रवाई किए जाने की मांग की है।

गैर अपराधी व्यक्ति पर थर्ड डिग्री का इस्तेमाल

साथ ही कार्रवाई ना होने पर न्यायालय की शरण पर भी जाने की बात कही है। सवाल यह खड़ा होता है कि क्या पुलिस व्यक्तिगत खुन्नस के लिए किसी गैर अपराधी प्रवृत्ति के व्यक्ति पर थर्ड डिग्री का इस्तेमाल कर सकती है। जिस तरह से युवक के शरीर में जख्म भरे हैं , उससे साफ पता चल रहा है कि जैसे किसी घोर अपराधी को थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किया गया हो। बता दें कि इससे पहले भी कई बार एसआई रोशन गुप्ता की दबंगई की शिकायतें मिलती रही हैं। अब देखना यह है कि पुलिस अधीक्षक अपने ही विभाग के इस दबंग एसआई पर कब कार्यवाही करेंगे।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story