Top

Basti Crime News: अन्तर्राज्यीय गैंग के तीन अभियुक्त गिरफ्तार, बरामद हुआ लाखों का सामान

Basti Crime News: बस्ती जिले के नगर पुलिस ,साइबर सेल , सर्विलांस सेल की संयुक्त टीमों द्वारा मुखबिर की सूचना पर एक्सडा पुल के धोखाधड़ी करके रुपए निकालने वाले अंतर्जनपदीय गैंग के तीन सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा।

Amril Lal

Amril LalReport Amril LalVidushi MishraPublished By Vidushi Mishra

Published on 28 Jun 2021 6:02 PM GMT

In the name of doubling money in 15 days, cheating of 250 crores in 4 months
X

ठगी का मामला (फोटो-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Basti Crime News: थाना नगर, साइबर सेल बस्ती व सर्विलांस सेल बस्ती की संयुक्त टीम द्वारा खातो से धोखाधड़ी करके रुपये निकालने वाले अन्तर्राज्यीय गैंग के तीन अभियुक्तों को किया गया गिरफ्तार-। पुलिस ने अभियुक्तों के पास से अदद मोटर साईकिल पल्सर रंग काली यू0पी0 44 बीबी 1808 ,औऱ 04 अदद मोबाईल विभिन्न कम्पनीयो के 13 अदद एटीएम कार्ड विभिन्न बैको के ,10 अदद आधार कार्ड विभिन्न व्यक्तियो के ,15 अदद सिम कार्ड विभिन्न कम्पनीयो के , 56 अदद वोडाफोन/ आईडिया/ एयरटेल कम्पनी के खाली रैपर जिसपर मोबाइल नं0 किसी व्यक्ति का नाम, खाता नं0, कोड आदि लिखा हुआ है । 21 अदद सिम कार्ड वोडाफोन कम्पनी के रैपर सहित रुपए 2000 नगद बरामद किए।

लिखित शिकायत दर्ज

बस्ती जिले के नगर पुलिस ,साइबर सेल , सर्विलांस सेल की संयुक्त टीमों द्वारा मुखबिर की सूचना पर एक्सडा पुल के धोखाधड़ी करके रुपए निकालने वाले अंतर्जनपदीय गैंग के तीन सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा।

नगर थाना क्षेत्र के 20 जून को रामदौड द्वारा थाना नगर जनपद बस्ती पर आकर लिखित शिकायत दर्ज कराया गया था कि मेरे खाते से 88,593.66 हजार निकल गये हैं। जिसको किसी साईबर अपराधी ने निकाला है ।

जिसके सम्बन्ध में थाना नगर जनपद बस्ती पर मु0अ0स0- 102/2021 धारा 419, 420, भा0द0वि0 व 66 आई0टी0 एक्ट के तहत अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर नगर पुलिस विवेचना कर रही थी ।

नगद पुलिस ने बताया कि अभियुक्तों से पूछताछ में अभियुक्तों ने बताया कि, हम लोग मिलकर एक संगठित गिरोह चलाते है, जिसमें हम लोग आम जनता के क्रेडिट कार्ड की डिटेल प्राप्त कर, क्रेडिट कार्ड धारकों को अपनी बातों में फंसा कर उनसे ओ0टी0पी0 प्राप्त कर लेते हैं और उनके खाते से रूपयों को ऑनलाइन निकाल लेते है । हम लोगों के गिरोह में सबके अपने काम निर्धारित हैं ।

आरोपी शादाब द्वारा बताया गया , की एक सी0एस0पी0 चलाता हूँ, जब भी कोई व्यक्ति अपना खाता खुलवाने आता है तो मैं उस व्यक्ति के नाम से चुपके से फर्जी बैंक खाता भी खोल देता हूं जिसका प्रयोग हमारी गिरोह द्वारा रूपयों को ठगी कर खाते में मंगाने हेतु प्रयोग किया जाता है ।

आरोपी मो0 वारिश द्वारा बताया गया कि मै फर्जी सिम कार्ड एवं पहले से चालू पेटीएम खाते गिरोह के कार्य के लिये प्रदान करता हूँ, जिसमें से पहले से चालू फर्जी सिम कार्ड से लोगो के पास फोन करने में प्रयोग किया जाता है तथा पेटीएम खातों को ठगे हुए रूपयों को मंगाने के प्रयोग में लाया जाता है ।

आरोपी अयोध्या द्वारा बताया गया कि साहब मै भी बैंक खाते और फर्जी मोबाइल नम्बर चालू करता हूँ तथा शादाब और मो0 वारिश के साथ मिलकर दिये गये बैंक खातों और मोबाइल नम्बरों पर फर्जी सिम कार्डों से फोन करते है और क्रेडिट कार्ड धारकों से रूपयों को निकालने के लिये भेजे गये ओ0टी0पी0 को प्राप्त कर लेते है और हम लोगो के द्वारा प्रदान किये गये पेटीएम तथा अन्य बैंक खातों में उन ठगे गये रूपयों को मंगा लेते है, जिसके बाद हम लोगो द्वारा उन रूपयों को निकाल लिया जाता है और आपस में बांट लिया जाता है । हम लोगों का बस यही अपराध है जिसे हम लोगो अपने आर्थिक लाभ और जीवन यापन के लिये किया है ।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story