Top

ग्रेटर नोएडा : भाजपा नेता हत्याकांड में वांछित शार्प शूटर गिरफ्तार

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 22 Dec 2017 4:00 PM GMT

ग्रेटर नोएडा : भाजपा नेता हत्याकांड में वांछित शार्प शूटर गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

ग्रेटर नोएडा : उत्तर प्रदेश पुलिस की एसटीएफ ने शुक्रवार को गौतमबुद्ध नगर में हुए भाजपा नेता शिव कुमार यादव समेत तिहरे हत्याकांड में वांछित शार्प शूटर अनिरुद्ध भारद्वाज उर्फ पंडित उर्फ रावण को आज मुजफ्फरनगर जनपद से गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए शूटर की गिरफ्तारी पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित था।

ग्रेटर नोएडा के थाना बिसरख के तिगरी गोल चक्कर के निकट बाइक सवार बदमाशों ने 16 नवंबर को फॉरच्यूनर कार सवार भाजपा नेता शिव कुमार यादव, उनके निजी गनर रईसपाल और कार चालक बलराज उर्फ बल्ली की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

इस वारदात के वक्त सर्विस रोड पर जा रही एक छात्रा फॉरच्यूनर गाड़ी से टकरा कर घायल हो गई थी, जिसकी उपचार के दौरान मौत हो गई थी। पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच कर रही थी, लेकिन बाद में जांच एटीएफ को सौंपी गई।

सीओ एसटीएफ राजकुमार मिश्र ने बताया गिरफ्तार शार्प शूटर अनिरुद्ध भारद्वाज उर्फ पंडित उर्फ रावण उर्फ छपार कुख्यात अपराधी है और अनिल भाटी के लिए काम करता है। उसके पास से 9 एमएम पिस्टल भी बरामद हुई।

उन्होंने बताया कि अनिरुद्ध 2011 में हत्या के आरोप में मुजफ्फरनगर से जेल जा चुका है। गिरफ्तार अभियुक्त ने अनिल भाटी गैंग के बारे में कई महत्वपूर्ण जानकारी भी दी है।

अभियुक्त अनिरुद्ध पर गौतमबुद्ध नगर से इसी हत्याकांड में 25,000 का इनाम घोषित किया गया था।

इस तिहरे हत्याकांड में शामिल शार्प शूटर नरेश तेवतिया, घटना कराने वाले अरुण यादव और रेकी करने वाले धरमदत्त शर्मा उर्फ सोनू को चार दिसंबर को गिरफ्तार किया गया था।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story