Top

खनन का विरोध करने पर भाजपा पार्षद ने दिखाई दबंगई, फोन पर दी संत की 'आरती उतारने' की धमकी

By

Published on 11 May 2017 5:00 AM GMT

खनन का विरोध करने पर भाजपा पार्षद ने दिखाई दबंगई, फोन पर दी संत की आरती उतारने की धमकी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

bjp audio viral

मुरादाबाद: रामगंगा नदी से होने वाले खनन का विरोध करना एक संत को महंगा पड़ गया है। संत रामदास जो की मां गंगा प्रदूषण मुक्ति मोर्चा के संस्थापक हैं। उन्हें भाजपा के ही एक पार्षद नीरज चौधरी ने फोन पर धमकी दी है। जिसका ऑडियो वायरल हो गया।

क्या कहा गया इस ऑडियो में

-वायरल हुए इस ऑडियो में पार्षद ने साफ़ शब्दों में कहा है कि तुम जब आरती करोगे, तो वहीं सब (खनन करने वाले) आकर तुम्हारी आरती उतारेंगे।

-रामदास द्वारा एलआईयू और पुलिस थाने पर सूचित कर दिया गया।

-जिसके बाद आरती के आयोजन में पुलिस टीम सुरक्षा के लिहाज से लगा दी गई और एलआईयू भी मौके पर मौजूद थी

आरती के टाइम पहुंच गया आरोपी पार्षद

-ख़ास बात ये रही कि आरोपी पार्षद अपनी कार में सवार होकर वहां पहुंच भी गया।

-लेकिन पुलिस और मीडिया को देख वो कुछ कर नहीं सका।

-अपने ऊपर लगे आरोपों की सफाई देते हुए कहा कि कुछ लोग (खनन करने वाले) उसके पास आए थे, जिन्हें यहां लाने की बात मैंने कही थी।

आगे की स्लाइड में जानिए क्या है अधिकारियों का कहना

क्या है पुलिस का कहना

-पुलिस अधिकारी भी कह रहे हैं कि संत रामदास द्वारा आयोजित आरती के कार्यक्रम में कुछ लोगों द्वारा नुकसान पहुंचाने की बात बताई गई थी।

-लिहाजा एलआईयू की रिपोर्ट के अनुसार कार्यक्रम स्थल पर पुलिस बल भेज दिया गया था।

-अभी तहरीर प्राप्त नही हुई है।

-एक भाजपा पार्षद को खनन का विरोध करने वाले एक संत को धमकी देने का मामला तूल पकड़ रहा है।

Next Story