Top

योगी के संगठन के पदाधिकारी को भाजपाइयों ने पीटा, घंटों किया बवाल

By

Published on 9 Oct 2017 3:41 AM GMT

योगी के संगठन के पदाधिकारी को भाजपाइयों ने पीटा, घंटों किया बवाल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

आगरा: आगरा दिल्ली हाइवे के सर्विस रोड पर एक रेस्टोरेंट में दो ग्राहकों में हुए झगड़े में विश्व हिंदू महासंघ और भाजपा कार्यकर्ताओं में जमकर लात-घूंसे चले। एक पक्ष ने थाने पर धरना दिया और दोनों पक्ष देर रात थाने पर डटे रहे। मारपीट में भाजयुमो के अध्यक्ष दीपक ढल पर आरोप लगाए गए हैं।

यह भी पढ़ें: मुस्लिम विश्वविद्यालय ने हिंदू विश्वविद्यालय के सम​र्थन में किया विरोध प्रदर्शन

क्या है पूरा मामला

जानकारी के अनुसार थाना न्यू आगरा से दस कदम दूर भगवान टाकीज चौराहे की सर्विस रोड पर आचमन रेस्टोरेंट स्थित है। रेस्टोरेंट संचालक का भाई मनोज अग्रवाल विश्व हिंदू महासंघ का पदाधिकारी है। कल देर रात यहां कमला नगर निवासी विक्रांत अपने कुछ साथियों के साथ आया था। यहां उसका एक ग्राहक से विवाद हो गया।

विक्रांत के भाजपा में जुड़े होने के कारण मनोज उसे पहले से जानता था। मनोज के अनुसार उसने उन्हें जाकर छुड़ाया ही था कि विक्रांत का गुस्सा सातवें आसमान पर आ गया। उसने उन्हें गालियां दी और भाजपा नेता दीपक ढल को बुला लिया।

यह भी पढ़ें: बदमाशों ने फिर दी योगी सरकार को चुनौती, BJP विधायक पर जानलेवा हमला

क्या है पीड़ित का कहना

मनोज का आरोप है कि दीपक ढल ने आते ही उसे तमाचा मार दिया और 'बड़ा महासंघ का पदाधिकारी बनता है, यह देख हम भाजपा के हैं' कहते हुए उसे बुरी तरह मारा और जिसके बाद पिटाई से वो बेहोश हो गया। इसके बाद उसे पड़ोसी दुकानदारों ने उठाया और थाने लेकर पहुंचे। जहां उन्होंने दीपक ढल और विक्रांत समेत पांच अज्ञात के ख़िलाफ़ तहरीर दी है।

पूरे प्रकरण में मुख्यमंत्री योगी का संगठन विश्व हिंदू महासंघ और भाजपा कार्यकर्ता आमने सामने आ गए। देर रात तक दोनों पक्षों से पैरवी के लिए नेताओं की भीड़ थाने पर जुटी रही। महासंघ के कार्यकर्ताओं ने थाने पर धरना भी दिया। एसओ न्यू आगरा नरेंद्र ने जब उन्हें उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया, तब कहीं जाकर वो शांत हुए।

क्या है दीपक ढल का कहना

इस प्रकरण में मनोज अग्रवाल दीपक ढल पर आरोप लगा रहे हैं, तो वहीं दूरभाष पर बात करने पर दीपक ढल अपने को निर्दोष बता रहे हैं। उनका कहना है कि वहां से गुजरते वक्त झगड़ा देख वो रुके थे और समझाने की कोशिश की थी। मारपीट नहीं की गई है।

वहीं पड़ोसी दुकानदार राजीव गर्ग ने दीपक ढल द्वारा मारपीट की पुष्टि करते हुए तहरीर में बतौर गवाह अपना नाम दिया है।

क्या है एसओ का कहना

एसओ न्यू आगरा नरेंद्र कुमार ने फोन पर बताया कि तहरीर मिली है। जांच की जा रही है। जांच के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।

Next Story