Top

गाजियाबाद पुलिस को मिली कामयाबी, रेमडेसिविर की कालाबाजारी का पर्दाफाश, 3 गिरफ्तार

गाजियाबाद पुलिस ने रेमेडिसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkMonikaPublished By Monika

Published on 27 April 2021 5:34 PM GMT

गाजियाबाद पुलिस को मिली कामयाबी, रेमडेसिविर की कालाबाजारी का  पर्दाफाश, 3 गिरफ्तार
X

 रेमेडिसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी में गिरफ्तार तीन आरोपी (फोटो : सोशल मीडिया) 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गाजियाबाद: गाजियाबाद पुलिस ( Ghaziabad Police ) ने रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) की कालाबाजारी (Blackmarketing) करने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। शहर कोतवाली पुलिस और एसएसपी (SSP) की स्पेशल टीम ने ये गिरफ्तारी की है। आरोपियों से 70 रेमडेसिविर इंजेक्शन के अलावा अन्य जीवन रक्षक इंजेक्शन बरामद किए गए हैं। इसके अलावा आरोपियों से 36 लाख रुपए से ज्यादा की नकदी बरामद की गई है।

रेमेडिसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी का किया पर्दाफाश (फोटो :सोशल मीडिया)

पुलिस को लगातार सूचना मिली कि मोटा मुनाफा कमाने के लिए कुछ कालाबाजारी गोरखधंधेबाज लगे हुए हैं। वह लगातार जीवन रक्षक दवाइयों ऑक्सीजन और इंजेक्शन का स्टॉक कर रहे हैं, और उन्हें चोरी छुपे मोटे दाम पर मजबूर लोगों को बेच रहे हैं। इसी कड़ी में यह कार्रवाई काफी अहम है। आरोपियों से एक लग्जरी गाड़ी भी बरामद की गई है। जिसके माध्यम से सप्लाई की जा रही थी। यही नहीं कुछ मोबाइल फोन पकड़े हैं, जिसमें दर्जनों व्हाट्सएप कॉल और मैसेज मिले हैं। आरोपी सोशल मीडिया के माध्यम से ही कालाबाजारी का कार्य कर रहे थे।पुलिस अब यह पता लगाने में जुटी है कि ऐसे दौर में जब लोगों को रेमडेसिविर इंजेक्शन नहीं मिल पा रहा है, तो यह आरोपी इतने सारे इंजेक्शन कहां से लेकर आए थे।

पकड़े गए आरोपी (फोटो : सोशल मीडिया )

2 दिन पहले पकड़े गए थे ऑक्सीजन के आरोपी

आपको बता दें,2 दिन पहले गाजियाबाद पुलिस ने ही ऑक्सीजन की कालाबाजारी करने वाले दो आरोपी पकड़े थे।जिन से भारी मात्रा में ऑक्सीजन सिलेंडर बरामद किए गए थे।इस समय जीवन रक्षक देने वाली यह सभी चीजें स्टॉक करके ऐसे आरोपी देश को भारी नुकसान पहुंचा रहे हैं। लोग मजबूरी के चलते दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं। लेकिन ऐसे आरोप सिर्फ लालच के चलते मजबूर लोगों को शिकार बना रहे हैं। पुलिस का दावा है कि अगर इस गैंग के कुछ अन्य लोग भी इस मामले में शामिल हैं, तो उनकी गिरफ्तारी भी जल्द कर ली जाएगी।इनका पूरा नेटवर्क खंगाला जा रहा है। पता यह भी चला है कि पूरे देश में इनके तार फैले हुए हैं।


Monika

Monika

Next Story