Top

ब्राइटलैंड कांड : आरोपी छात्रा के वकील ने कहा स्कूल ने मिटाए सुबूत, CBI जांच हो

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 21 Jan 2018 4:00 PM GMT

ब्राइटलैंड कांड : आरोपी छात्रा के वकील ने कहा स्कूल ने मिटाए सुबूत, CBI जांच हो
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : ब्राइटलैंड स्कूल मामले की आरोपी छात्रा के वकील ने सरकार से मामले की जांच सीबीआई या सीबीसीआईडी से कराने की मांग उठाई। उन्होंने कहा कि लड़की के खिलाफ कोई साक्ष्य नहीं हैं। स्कूल प्रबंधन किसी को बचा रहा है। इसलिए साक्ष्य मिटाये हैं और लड़की को फंसाया जा रहा है। इसलिए यह मामला सीबीआइ या सीबीसीआईडी से कराया जाए। मुख्यमंत्री को स्वतः संज्ञान लेकर इस सेंसेटिव मामले की जांच केंद्रीय एजेंसी से करानी चाहिए।

छात्रा ने उठाए महिला टीचर पर सवाल

आरोपी छात्रा ने बताया की सुनीता और तान्या मैम ने सारे कपडे उतरवाए फिर मुझसे एक चीज को टेबल पर रखने को कहा। तान्या मैम ने कहा की तुम्हारे थोड़े से बाल चाहिए। उन्होंने पीछे से मेरे कुछ बाल उखाड़े। बाद में मेरे क्लास में आकर छोटे बाल वाली 4 लड़कियों के नाम लिखे। लड़की ने कहा की 17 को शाम को मुझे पता चला की स्कूल में क्या हुआ है। मैं उस बच्चे को बिलकुल नहीं जानती। मुझे उस बच्चे के सामने ले जाया गया और उसने मुझे नहीं पहचाना।

पुलिस की भूमिका पर भी सवाल

छात्रा ने पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठाये और कहा की स्कुल वालों ने मुझपर प्रेसर बनाया और पुलिस उन्हीं की बात सुन रही है। पुलिस ने मेरे पापा की बात भी नहीं सुनी। आरोपी छात्रा ने कहा सीसीटीवी फुटेज क्यों नहीं दिखाई जा रही है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story