Top

Bulandshahr Crime News: यति नरसिम्हानंद के काफिले में घुसे तीन संदिग्ध पकड़े गए

Bulandshahr Crime News: डासना मंदिर के महंत यति नरसिम्हानंद के बुलंदशहर में आने के दौरान उनके काफिले में घुसे तीन संदिग्ध कार सवार युवकों को पुलिस ने देर रात पकड़ लिया।

Sandip Tayal

Sandip TayalReport Sandip TayalDivyanshu RaoPublished By Divyanshu Rao

Published on 14 July 2021 7:48 AM GMT

Bulandshahr Crime News
X

महंत यति नरसिम्हानंद की फोटो-सोशल मीडिया 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Bulandshahr Crime News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद जनपद के डासना मंदिर के महंत यति नरसिम्हानंद (Yeti Narasimhanand) महाराज के बुलंदशहर (Bulandshahr) में आने के दौरान उनके काफिले में घुसे तीन संदिग्ध कार सवार युवकों को पुलिस ने देर रात पकड़ लिया। तीनों संदिग्ध बंगलौर के रहने वाले हैं। जिनसे पुलिस पूछताछ में जुटी है। यति नरसिम्हानंद ने इसको लेकर ट्वीट करके लिखा- पुलिस सतर्कता से मेरी हत्या करने आए तीन युवक गिरफ्तार हुए।

मिली जानकारी के मुताबित बुलंदशहर में रामघाट गंगा किनारे वन खंडेश्वर महादेव मंदिर में पांच दिवसीय बंग्लामुखी महायज्ञ मंगलवार से प्रारंभ हुआ है। डासना मंदिर के यति नरसिम्हानंद महाराज मंगलवार रात करीब साढ़े 9 बजे पुलिस सुरक्षा में कार से मंदिर जा रहे थे। रामघाट चौराहे के नजदीक पंजाब नंबर की सफेद क्रेटा कार काफिले में घुस गई। जिसके बाद राजघाट थाना पुलिस ने काफिला रुकवाकर पंजाब नंबर की क्रेटा कार को पकड़ लिया।

यति नरसिम्हानंद- फोटो सोशल मीडिया


अचानक यति नरसिम्हानंद के काफिले में घुसी क्रेटा कार

जानकारी के अनुसार इसके बाद रामघाट थानाध्यक्ष की गाड़ी को ओवरटेक किया। पुलिस को शक हुआ तो महाराज का पूरा काफिला रुकवाया और दौड़कर क्रेटा कार रुकवाई गई। उसमें तीन युवक बैठे हुए थे। सीओ वंदना शर्मा ने बताया कि शहीद समीर अहमद (33), तनवीर पाशा (30) और वेंकटेश (37) पकड़े गए, जो बैटरी खरीदने-बेचने का काम करते हैं और बंगलुरू के रहने वाले हैं।

तीनों युवक बंगलौर जा रहे थे

तीनों युवक मुरादाबाद से बंगलौर जा रहे थे। 9 जुलाई को वे मुरादाबाद आकर रेलवे स्टेशन के सामने वेगास होटल में ठहरे। डबल फाटक मुरादाबाद से इमरान नाम के व्यक्ति से साढ़े सात लाख रुपये में यह क्रेटा कार खरीदी थी। बंगलौर जाते समय रास्ता भूल जाने के कारण रामघाट की तरफ पहुँच गये। तीनो संदिग्धों से आपत्तिजनक समान नहीं मिला है।

बता दें कि गाज़ियाबाद के डासना मंदिर से ही उत्तर प्रदेश में हो रहे धर्मांतरण का खेल खुलासा हुआ था, और डासना के मंदिर के यति नरसिम्हानंद महाराज महंत है।

Divyanshu Rao

Divyanshu Rao

Next Story