Top

लव मैरिज बनी ओला कैब चालक की हत्या की वजह, पुलिस कर रही मामले की जांच

By

Published on 28 Sep 2017 5:29 AM GMT

लव मैरिज बनी ओला कैब चालक की हत्या की वजह, पुलिस कर रही मामले की जांच
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा: सेक्टर 63 डी 199 के सामने बुधवार तड़के कैब चालक की हत्या मामले में रंजिश की बात सामने आ रही है। दरअसल, कैब चालक अजय कुमार ने लव मैरिज की थी। जिसके बाद से लड़की पक्ष उससे रंजिश रखने लगा था।

मृतक के चचेरे भाई अरविंद ने बताया कि अजय ने देविका से लव मैरिज की थी। इसी के चलते देविका का परिवार अजय से रंजिश रखने लगा।

यह भी पढ़ें: नोएडा फेस 3 थाने के पास ओला कैब ड्राईवर की मिली कार में लाश

लड़की के घरवाले शादी के खिलाफ थे और उसकी दूसरी जगह शादी करवाना चाह रहे थे। इसके अलावा लड़की को अजय के साथ भी नहीं भेज रहे थे। करीब तीन महीने पहले लड़की के घरवालों ने अजय को बुरी तरह मारा-पीटा था। करीब दो-तीन दिन पहले फोन पर उसकी लड़की के परिजनों से काफी लड़ाई हुई थी। अरविंद के अनुसार लड़की के परिजनों ने बात करने के बहाने उसे बुलाकर हत्या की है।

जीपीएस ट्रैकर से मिली ससुराल की लोकेशन

कार जीपीएस ट्रैकर लगा हुआ है। मंगलवार रात को गुड़गांव से कंपनी के स्टाफ को उसने नोएडा में छोड़ा है। इसके बाद रात 1:22 बजे मामूरा में लड़की के घर के पास की उसकी लोकेशन आई है। इसके बाद करीब 2 बजे गाड़ी से चली है और इसके बाद पहले सेक्टर-67 गई है और वहां से वापस लौट कर फेज-3 थाने के पास कट से वापस घुमकर फिर सेक्टर-67, वहां से सेक्टर-121 होते हुए वापस सेक्टर-63, फिर सेक्टर-64 होते हुए मॉडल टाउन अंडरपास से यूटर्न लेकर वापस सेक्टर-63 गई है। यहां पर रात करीब 2:45 पर डी-199 के सामने गाड़ी बंद हो गई है।

कार की पिछली सीट पर मिला शव

शव उसी की कार में पड़ा मिला। चालक के चेहरे और गले पर चोट के निशान हैं। जिससे प्रतीत हो रहा है कि उसकी गला घोंटकर हत्या की गई होगी। सूचना पर पहुंची कोतवाली .फेज 3 पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। पुलिस ने मृतक की पहचान अजय कुमार (25) निवासी गौकुलधाम सोसाइटी प्रताप विहार गाजियाबाद के रूप में की है। चालक गुड़गांव की एक आईटी कंपनी में कैब चलाता था। कैब में लगे जीपीएस से पुलिस को लोकेशन ट्रेस हो गई है। शिकायत के आधार पर पुलिस लड़की, उसके पिता और भाई को हिरासत में लेकर मामले की जांच कर रही है।

सीओ सेकेंड राजीव कुमार सिह ने बताया है कि पुलिस दो एंगल से मामले की जांच कर रही है। प्रेम प्रसंग के अलावा रंजिश को भी खंगाला जा रहा है। पुलिस इलेक्ट्रॉनिक सर्वेलांस के आधार पर तथ्यों की जांच कर रही है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Next Story