×

Chandauli Crime news: प्रेमी जोड़ों ने गंगा में छलांग लगाकर मौत को लगाया गले

Chandauli Crime news: परिजनों ने स्वीकार किया है कि दोनों में अंतरंग प्रेम था इसी के कारण दोनों ने आत्महत्या कर लिया है।

Ashvini Mishra

Ashvini MishraWritten By Ashvini MishraPallavi SrivastavaPublished By Pallavi Srivastava

Published on 30 July 2021 3:47 AM GMT

dead couple found
X

प्रेमी जोड़े का मिला शव pic(social media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Chandauli Crime news: चंदौली से एक घटना सामने आयी है जिसको देखकर हर कोई यही कह रहा है कि गठबंधन नहीं हुआ तो हाथ बंधन कर मौत(Death) को लगाया गले। दरअसल धानापुर थाना क्षेत्र के नरौली घाट पर गंगा(Ganga) में मिले प्रेमी युगलों के शव मिलने से गांव में हड़कंप मच गया।

बता दें कि चंदौली जनपद के धानापुर थाना क्षेत्र के नरौली घाट पर गंगा में प्रेमी युगलों का मिला। प्रेमी युगलों के शवों की शिनाख्त स्थानीय थाना क्षेत्र के दिया गांव के निवासी के रूप में हुई है। इस संबंध में क्षेत्राधिकारी सकलडीहा शेषमणि पाठक ने बताया कि गंगा में मिले शवों की पहचान दिया गांव के सुभाष यादव के पुत्र व गांव की ही राजेश यादव की पुत्री के रूप में हुई है।

घटना की जानकारी देते हुए pic(social media)

शादी नहीं हुई तो कर ली आत्महत्या

परिजनों ने स्वीकार किया है कि दोनों में अंतरंग प्रेम था इसी के कारण दोनों ने आत्महत्या कर लिया है। हालांकि परिजनों ने दोनों के लापता होने की सूचना थाने पर नहीं दी थी, लेकिन आत्महत्या की बात को स्वीकार कर लिया है। पुलिस पोस्टमार्टम की के बाद नियमानुसार विधिक कार्यवाही करेगी।

आपको बता दें कि गुरुवार को सुबह धानापुर थाना क्षेत्र के नरौली घाट पर दो प्रेमी युगल का शव हाथ बंधे हुए स्थिति में मिला था। दोनों शवो का हाथ समाजवादी पार्टी के रंग वाले गमछे से बधा था इसलिए यह कयास लगाया जा रहा था कि समाजवादी पार्टी के ही समर्थकों का शव तो नहीं है। सूचना के बाद दोनों की दिया गांव निवासी के रूप में पहचान हुई।

धानापुर थाना क्षेत्र के दिया गांव के सुभाष यादव के पुत्र का प्रेम व गांव के ही राजेश यादव की पुत्री से इतना परवान चढ़ गया कि दोनों ने साथ जीने और मरने की कसम खा ली। परिजनों के विरोध के बाद दोनों ने दुःसाहसिक कदम उठाते हुए जिंदगी जीने के लिए गठबंधन नहीं हो सका दो जिंदगी के अंतिम क्षणों को जीने के लिए एक दूसरे के हाथों को गमछे से बाँध कर गंगा में छलांग लगाकर मौत को गले लगा लिया। शव की स्थिति को देखकर लोग यही कह रहे हैं कि गठबंधन नहीं हुआ तो हाथ बंधन कर मौत को गले लगाया।

Pallavi Srivastava

Pallavi Srivastava

Next Story