Top

Chhattisgarh: शादी से एक दिन पहले जीजा ने साली को जिंदा जलाया, रखता था बुरी नजर

Chhattisgarh: लड़की की रविवार को शादी होनी थी, लेकिन साली पर जीजा की गलत नजर थी और उसे युवती की शादी पसंद नहीं रही थी।

Network

NetworkNewstrack NetworkDharmendra SinghPublished By Dharmendra Singh

Published on 23 May 2021 4:01 PM GMT

Chhattisgarh
X

जीजा ने साली को जिंदा जलाया (प्रतीकात्मक तस्वीर: सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Murder in Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले से एक दर्दनाक खबर सामने आई है। जिले के तुमड़ीबोड़ के गांव कोपेडीह में शादी से पहले लड़की की अर्थी उठ गई। लड़की की रविवार को शादी होनी थी, लेकिन साली पर जीजा की गलत नजर थी और उसे युवती की शादी पसंद नहीं रही थी।

साली की शादी से नाराज जीजा ने बारात आने से पहले ही उसको मिट्टी का तेल डालकर जिंदा जला दिया। पुलिस ने आरोपी जीजा हेमलाल सेन को गिरफ्तार किया है। इस घटना के बाद युवती के परिजनों और पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है।
यह दिल दहला देने वाली घटना शनिवार के सुबह की है। पुलिस ने बताया कि कोपेडीह के रहने वाले रवि सेन की बेटियों 25 साल की मनीषा और 23 साल की मोनिका की शादी थी। पूरा परिवार शादी की तैयारियों में लगा हुआ था। रविवार को दोनों बहनों की बारात आनी थी। शनिवार को तेल मायन का कार्यक्रम होना था और परिवार वाले इसमें लगे हुए थे।
इसी दौरान हेमलाल ने मनीषा के ऊपर पानी डालने की बात कही, लेकिन उसने उसके ऊपर मिट्टी का तेल डाल दिया। मिट्टी के तेल की दुर्गंध से मनीषा डर गई। परिवार के लोग कुछ समझते कि इससे पहले ही हेमलाल ने मनीषा को आग लगाकर भाग गया। आग में मनीषा बुरी तरह जल गई। आनन-फानन में परिजन उसको लेकर राजनांदगांव मेडिकल अस्पताल गए, लेकिन इलाज के दौरान मनीषा जिंदगी की जंग हार गई।

साली पर जीजा की थी बुरी नजर

पुलिस ने मनीषा और ग्रामीणों के बयान लेने के बाद बताया कि हेमलाल मनीषा पर बुरी नजर रखता था। कई बार शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव बनाया था। मनीषा ने यह बात परिवार वालों को भी बताई थी। इससे गुस्साए हेमलाल ने मनीष को मिट्टी का तेल डालकर जला दिया।


अयोध्या में हत्या का खुला राज

Ayodhya Murder: उत्तर प्रदेश के अयोध्या (Ayodhya) जिले में सनसनीख़ेज हत्याकांड सामने आया है। शनिवार को यहां एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्या (Murder) कर दी गई है। इसके बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया है। बताया जा रहा है कि जमीन के विवाद में लोगों की हत्या की गई है। मरने वालों में बच्चे भी शामिल हैं।
अयोध्या में पांच लोगों की हत्या का मामला सामने आया है। सभी एक ही परिवार के थे, जिसमे पति-पत्नी समेत तीन बच्चे शामिल थे। पुलिस को घटना की जानकारी हुई तो मौके पर पहुँच पर शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं इस सनसनीखेज हत्याकांड की जांच शुरू कर दी है।
हत्या की वजह
जानकारी के मुताबिक, थाना इनायत नगर खानपुर के बरिया निसारु गांव में संपत्ति विवाद में पांचों की हत्या की गयी। आरोप है कि सगे भांजे ने ही अपने मामा- मामी सहित उनके दो बेटे और एक बेटी को मार डाला। हत्या किसी धारदार हथियार से गला रेत कर की गयी है। जिसके बाद हत्यारोपी फरार हो गया। पुलिस भी आरोपी भांजे की तलाश में लग गई है।

3 बच्चों की भी हत्या

शुरूआती जांच में पता चला कि 35 साल के राकेश अपने भांजे के साथ बरिया निसारु गांव में एक ही मकान में रहते थे। जमीन को लेकर मामा- भांजे के बीच काफी दिनों से विवाद चल रहा था। शनिवार की देर रात भांजे ने अपने मामा राकेश कुमार और मामी ज्योति की हत्या कर दी। इतना ही नहीं उनके नाबालिग बेटे और दो बेटियों को भी मार डाला।
घटना की सूचना मिलते ही डीएम अनुज झा, एसएसपी शैलेश पांडे और एसपी ग्रामीण शैलेंद्र सिंह मौके पर पहुंच गए। कई थानों की पुलिस भी घटना स्थल पर मौजूद है। ग्रामीणों ने वहां एकत्र होकर पुलिस को सारी जानकारी दी।
एसएसपी शैलेश पांडे हत्यारोपी की तलाश में मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शैलेश पांडे ने बताया कि 5 लोगों की हत्या के आरोपी भांजे और मामा के बीच नवासे की संपत्ति का विवाद चल रहा था। शुरुआती जांच में गाँव वाले भी यहीं बता रहे हैं। फ़िलहाल आरोपी फरार है लेकिन उसके परिवार वालों से पूछताछ हो रही है। वहीं आरोपी की तलाश में ५ पुलिस टीमें जुट गयी हैं, जो उसकी गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी कर रही हैं।




Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story