Top

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री कार्यालय की वेबसाइट हैक, हैकर ने लिखा कुछ ऐसा..

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 12 Dec 2017 3:02 PM GMT

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री कार्यालय की वेबसाइट हैक, हैकर ने लिखा कुछ ऐसा..
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रायपुर : छत्तीसगढ़ में मंगलवार को मुख्यमंत्री कार्यालय की वेबसाइट हैक कर ली गई। इसके पहले हैकरों ने छत्तीसगढ़ पुलिस की वेबसाइट को हैक कर उस पर पाकिस्तान का झंडा लगा दिया था। छत्तीसगढ़ चिप्स के सीईओ एलेक्स पॉल मेनन ने बताया, "सीएमओ की वेबसाइट हैक हो गई, उस पर किसी हैकर ने अटैक किया था। उसने साइट पर लिखा था कि हर दिन कोई न कोई हैक होता है, आज आपका दिन है, मुझे कभी मत भूलना।"

हैकर ने लिखा था- "अपनी सिक्योरिटी की खामियों को दूर करो। ये केवल आपके लिए एक रिमाइंडर है।" साथ ही चेतावनी दी कि अगर वेबसाइट को सुरक्षित नहीं की गई तो आगे कुछ भी हो सकता है।

हैकर का नाम फैजल अफजल बताया जा रहा है। उसने मैसेज के नीचे लिखा है- 'टीम पाक साइबर अटैकर, हम पाकिस्तानी हैकर हैं।'

मेनन ने कहा, "हमने वेबसाइट को रिस्टोर कर लिया है। साथ ही सिक्योरिटी पर भी विशेष ध्यान दिया गया है। हमने वेबसाइट की सिक्योरिटी और बढ़ा दी है, अब इसे कोई हैकर हैक नहीं कर सकता।"

वेबसाइट एक्सपर्ट उमेश शर्मा ने कहा, "वेबसाइट ज्यादातर दो कारणों से हैक होती है। पहला, जब सिर्फ वेबसाइट की सिक्योरिटी में कमी हो। दूसरा, जब साइट कजंस सर्वर पर चल रही हो और उसका आईपी एड्रेस हैक हो जाए। इस तरह वेबसाइट से डेटा भी मिटाया जा सकता है।"

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story