चिन्मयानंद केस: छात्रा के वीडियो का वायरल होना पिता ने बताया साजिश

चिन्मयानंद केस में पीड़िता के पिता ने बेटी के वीडियो और स्क्रीनशॉट वायरल होना साजिश बताया है। पीड़िता के पिता ने कहा है कि उनकी बेटी ने विशेष जांच दल (एलआईटी) को सबूत के तौर पर चिन्मयानंद की मालिश का वीडियो दिया था।

Published by Shreya Published: September 16, 2019 | 10:28 am
Modified: February 28, 2020 | 12:28 pm
चिन्मयानंद केस: छात्रा के वीडियो का वायरल होना पिता ने बताया साजिश

Swami Chinmayanand

शाहजहांपुर: चिन्मयानंद केस में पीड़िता के पिता ने बेटी के वीडियो और स्क्रीनशॉट वायरल होना साजिश बताया है। पीड़िता के पिता ने कहा है कि उनकी बेटी ने विशेष जांच दल (एलआईटी) को सबूत के तौर पर चिन्मयानंद की मालिश का वीडियो दिया था। लेकिन अब उस वीडियो को और उसके स्क्रीनशॉट को पोस्ट किया जा रहा है।

वीडियो वायरल होना एक साजिश- पीड़िता के पिता

पीड़िता के पिता ने कहा है कि सोशल मीडिया पर वीडियो और स्क्रीनशॉट पोस्ट किए जा रहे हैं, वो वीडियो केवल उनके बेटी के पास ही थे। उन्होंने कहा कि वीडियो और स्क्रानशॉट का वायरल होना एक साजिश है। वो इसकी जानकारी उच्चतम न्यायालय को देंगे। साथ ही इस मामले की जांच करने की अपील करेंगे।

यह भी पढ़ें: वाराणसी: यौन उत्पीड़न के आरोपी BHU प्रोफेसर को लंबी छुट्टी पर भेजा गया, स्टूडेंट्स का आंदोलन खत्म

दुष्कर्म का मामला दर्ज न किया जाए- ओम जी

आपको बता दें कि स्वामी चिन्मयानंद के पक्ष से हिंदू महासभा के नेता ओम जी ने रविवार को मीडिया से कहा कि उन्होंने छह दिसंबर को राम मंदिर के निर्माण करने की घोषणा की है और ऐसे में अगर उन्हें कुछ हो जाता है तो राम मंदिर के निर्माण में रुकावट पड़ जाएगी। साथ ही ओम जी ने उत्तर प्रदेश सरकार से चिन्मयानंद के ऊपर दुष्कर्म का मामला दर्ज न करने की अपील की है और अगर मामला दर्ज होता है तो उसे रद्द करने की मांग की है।

43 अश्लील वीडियो जांच कमेटी को सौंपे-

पीड़िता के पिता का कहना है कि उन्होंने चिन्मयानंद के 43 अश्लील वीडियो को विशेष जांच दल को सौंपे हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि बेटी की आपत्तिजनक वीडियो को गायब किया गया है। उन्होंने मांग की है चिन्मयानंद के ऊपर सबूतों को नष्ट करने की धाराएं लगाई जाएं। उन्होंने कहा कि विशेष जांच दल सही दिशा में जा रही है।

यह भी पढ़ें: फेमस देह मंडी: हमेशा मिलती हैं आपत्तिजनक चीजें, फिर हो जाता है वही काम शुरू

दुष्कर्म करते वक्त भी बनाए थे वीडियो- छात्रा

वहीं पीड़ित छात्रा का कहना है कि स्वामी चिन्मयानंद ने उसके नहाते हुए वीडियो बनाया था और इन वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर उसके साथ दुष्कर्म किया था। साथ ही पीड़िता ने बताया कि स्वामी चिन्मयानंद ने रेप करते हुए भी वीडियो बनेए थे। पीड़िता ने आरोप लगाया है कि छात्रावास के मेरे कमरे से सबूतों को गायब किया गया है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App