Top

मनचलों की छेड़छाड़ से परेशान हैं दो बहनें, अधिकारियों से शिकायत के बावजूद नहीं सुनवाई

दोनों बहनों को कॉलेज आते-जाते मनचले रास्ते में छेड़छाड़ कर दोस्ती का दबाव डालते हैं। आरोप है कि ये मनचले एक बार उन्हें अपने घर तक घसीट ले गये और अपनी बात मानने के लिए मारपीट की।

zafar

zafarBy zafar

Published on 1 Jun 2017 7:17 PM GMT

मनचलों की छेड़छाड़ से परेशान हैं दो बहनें, अधिकारियों से शिकायत के बावजूद नहीं सुनवाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

आगरा: योगी सरकार के सत्ता में आते ही प्रदेश में एन्टी रोमियो दल बना कर पुलिस ने मनचलों पर कहर ढाना शुरू किया था। लेकिन ताजनगरी की दो बहनों का आरोप है कि पुलिस रोमियो को ही पनाह देने में जुटी है। इन बहनों से कुछ मनचले लगातार छेड़छाड़ कर धमकी दे रहे हैं, लेकिन आलाधिकारियों से शिकायत के बावजूद इन पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

यह भी पढ़ें...दो साल के मासूम पर 35 साल की महिला से छेड़छाड़ और लूटपाट करने का केस दर्ज

मनचलों का कहर

लोहामंडी के खतेना निवासी दोनों बहनों को कॉलेज आते-जाते मनचले रास्ते में छेड़छाड़ कर दोस्ती का दबाव डालते हैं। आरोप है कि ये मनचले एक बार उन्हें अपने घर तक घसीट ले गये और अपनी बात मानने के लिए मारपीट की। छेड़छाड़ के मामले में पहले जेल जा चुके, अपराधी किस्म के ये युवक बात न मानने पर युवतियों के भाई पर तेजाब डालने और मार देने की धमकी देते हैं।

यह भी पढ़ें...हिंदू युवा वाहिनी का सदस्य बताकर महिला से छेड़छाड़, मुख्य आरोपी अरेस्ट, एक फरार

आरोप लगाने वाली बहनों ने बताया कि आरोपी अभिषेक पहले उनका किरायेदार था। तब छोटी बहन से उसने अफेयर शुरू कर दिया लेकिन शादी करने से मुकर गया। इसके बाद अभिषेक पर पीड़ित परिवार ने मुकदमा दर्ज करा दिया। लेकिन छोटी बहन को फिर झांसा देकर आरोपी ने मुकदमा वापस करा लिया। इसके बाद फिर छेड़छाड़ और मारपीट करने लगा। जब बहनें थाने पहुंचीं तो पुलिस ने उन्हें ही आरोपी बना दिया।

यह भी पढ़ें...सोशल मीडिया पर शुरू हुआ प्यार का सफर, फिर रेप कर युवती को फेंका जंगल में

पुलिस पर आरोप

युवतियों का कहना है कि वे उच्चाधिकारियों तक से मामले की कई बार शिकायत कर चुकी हैं। लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। पीड़िताओं का आरोप है कि पुलिस भी इन मनचलों का ही बचाव कर रही है।

हालांकि, पुलिस ने बहनों के आरोपों का गलत बताया है। एसपी त्रिभुवन सिंह के मुताबिक मामला छेड़छाड़ का न होकर आपसी विवाद का है। दोनों युवतियां आरोपी पर शादी का दबाव बना रही हैं। इनमें अक्सर झगड़ा होता है, इसलिए पुलिस ने दोनों पक्षों का चालान कर दिया। इनमें तीन युवक और तीन युवतियां हैं। ।

zafar

zafar

Next Story