Top

पुलिस छापामारी में गौमांस बरामद, तस्कर फरार, विरोध में हिंदू संगठनों ने लगाया जाम

थाना प्रभारी रण सिंह ने मुखबिर की सूचना पर जानी कंला गांव के जंगल में छापा मारा तो सज्जू के खेत में करीब दो दर्जन कटे सिर और मांस बरामद हुआ। इसे ठिकाने लगाने की तैयारी चल रही थी। छापा पड़ते ही गौ तस्कर फरार हो गए। लेकिन मौके से दो होन्डा सिटी कार यूपी 15 वी5025 व डीएल 4 सी एबी4414 की डिक्की से मांस बरामद कर लिया गया।

zafar

zafarBy zafar

Published on 24 Oct 2016 12:13 PM GMT

पुलिस छापामारी में गौमांस बरामद, तस्कर फरार, विरोध में हिंदू संगठनों ने लगाया जाम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पुलिस छापमारी में गौमांस बरामद, तस्कर फरार, विरोध में हिंदू संगठनों ने लगाया जाम

मेरठ: सोमवार सुबह चार बजे जानी कंला गांव के जंगल में गोकशी की सूचना पर पुलिस ने छापा मार कर मौके से भारी मात्रा में मांस बरामद किया है। मौके से पुलिस ने दो कारें भी जब्त की हैं। गोकशी की खबर पर भारतीय जनता पार्टी और हिंदू संगठनों ने थाना प्रभारी जानी को सस्पेंड करने और गोकशों पर रासुका लगाने की मांग को लेकर मेरठ बागपत मार्ग तीन घन्टे तक जाम रखा। पुलिस ने फरार तस्करों की तलाश में दो टीमें लगाई हैं।

मांस और गाड़ियां बरामद

-थाना प्रभारी रण सिंह ने मुखबिर की सूचना पर जानी कंला गांव के जंगल में छापा मारा तो सज्जू के खेत में करीब दो दर्जन कटे सिर और मांस बरामद हुआ। इसे ठिकाने लगाने की तैयारी चल रही थी।

-छापा पड़ते ही गौ तस्कर फरार हो गए। लेकिन मौके से दो होन्डा सिटी कार यूपी 15 वी5025 व डीएल 4 सी एबी4414 की डिक्की से मांस बरामद कर लिया गया।

-थाना प्रभारी ने स्थानीन पशु चिकित्सा अधिकारी राकेश राय को मौके पर बुलाकर शवों का पोस्टमॉर्टम कराया जिसमें गाय का मांस होने की पुष्टि हुई।

-गोकशों की तलाश में पुलिस की दो टीमें जंगल में छानबीन अभियान में जुटी हैं।

पहुंचे अधिकारी

-जानी कंला में गोकशी की खबर मिलते ही हिन्दू संगठनों और बीजेपी नेताओं ने मनिन्दर पाल सिंह और शिव कुमार राणा के नेतृत्व में मेरठ-बागपत मार्ग जाम करके हंगामा शुरू कर दिया।

-जाम की सूचना पर पहुंचे सीओ सरधना सीपी सिंह व एसडीएम सदर हर्षिता का ग्रामीणों ने घेराव किया।

-करीब 2 घंटे बाद पहुंचे एडीएम दिनेश चन्द और एसपी देहात डॉ. प्रवीण रंजन मौके पर पहुंचे।

-अधिकारियों ने दोषियों पर रासुका लगाने और थाना प्रभारी की भूमिका की जांच के बाद कार्रवाई का भरोसा दिलाया, जिसके बाद जाम हटा।

जाम में गुटबाजी

-अधिकारियों के आश्वासन के बाद एक गुट ने जाम खोल दिया, तो दूसरे गुट ने जाम लगा दिया।

-फिर दूसरे गुट ने जाम खोला तो तीसरे गुट ने सडक पर आवाजाही रोक दी।

-एसपी देहात और एडीएम प्रशासन दिनेश चन्द को फिर अपना आश्वासन दोहराना पड़ा, तब जाम खुला।

-इस बीच जाम लगा रहे नेताओं ने एक दूसरे के खिलाफ प्रशासन की दलाली की भी नारेबाजी की।

-आरोप है कि मेरठ, दिल्ली और अन्य जगहों से वाहनों पर लाद कर लाई गई गायों को रातों रात काट कर सप्लाई कर दिया जाता है।

-हालांकि, पुलिस ने ऐसी सूचनाओं पर कई बार दबिश दी लेकिन पुलिस वाहनों की आहट पाकर गोकश फरार हो गये।

आगे स्लाइड्स में देखिए कुछ और फोटोज...

पुलिस छापमारी में गौमांस बरामद, तस्कर फरार, विरोध में हिंदू संगठनों ने लगाया जाम

पुलिस छापमारी में गौमांस बरामद, तस्कर फरार, विरोध में हिंदू संगठनों ने लगाया जाम

पुलिस छापमारी में गौमांस बरामद, तस्कर फरार, विरोध में हिंदू संगठनों ने लगाया जाम

zafar

zafar

Next Story