Top

शामली: बदमाश करते हैं लड़कियों की स्कूल बस का पीछा, पैरेंट्स हुए परेशान

By

Published on 15 Sep 2017 5:21 AM GMT

शामली: बदमाश करते हैं लड़कियों की स्कूल बस का पीछा, पैरेंट्स हुए परेशान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शामली: जिले में जहां एसपी अजय पाल शर्मा बदमाशों का सफाया कर रहे हैं, वहीं बदमाशों में हौसले और भी बुलंद होते जा रहे हैं। शामली के एक निजी स्कूल बस में सवार छात्राओं का बाइक से दो दर्जन बदमाशों ने पीछा किया। इतना ही नहीं उन्होंने बस रोककर छात्रा का अपहरण करने की भी कोशिश की, जिसके चलते परिजनों ने तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

यह भी पढ़ें: 4 स्कूली छात्राएं लापता, परिजनों ने जताई अपहरण की आशंका, जांच में जुटी पुलिस

क्या है पूरा मामला

-दरअसल जनपद शामली के कांधला थाना क्षेत्र के गंगेरू गांव से सिल्वर बेल्स स्कूल की बस छात्राओं को लेकर शामली आती है।

-गुरूवार सुबह जब छात्राएं बस में सवार होकर स्कूल जा रही थी, तो बाइक पर सवार लोगों ने बस का पीछा किया।

-शाम के समय स्कूल की छुट्टी होने पर जब छात्राएं वापस लौट रहीं थीं, तो दिल्ली-यमुनोत्री हाईवे पर कांधला थाना क्षेत्र में दो बाइक पर सवार आधा दर्जन लोगों ने बस को रोकने की कोशिश की।

-बस चालक स्थिति को भांप गया और अपनी सूझबूझ का परिचय देते हुए बस नहीं रोकी।

यह भी पढ़ें: सहारनपुर में स्कूली बच्चों की सुरक्षा का कोई इंतजाम नहीं, स्कूलों ने भी पत्ला झाड़ा

-साथ ही 100 नंबर पर काल की गई। जब 100 नंबर पर फोन नहीं उठा तो चालक ने फोन द्वारा इसकी सूचना छात्राओं के अभिभावकों को दी।

-छात्राओं के अभिभावकों ने कांधला पुलिस को सूचना दी। कांधला पुलिस सूचना मिलते ही दिल्ली यमुनो़त्री हाईवे पर पंजोखरा गांव पर पहुंची, जहां सामने से पुलिस को आता देख बाइक सवार बदमाश फरार हो गए।

-चालक व पुलिस की सर्तकता के कारण कोई बड़ी अनहोनी होने से बच गई। छात्राओं के अभिभावकों ने अपहरण करने की आशंका जताते हुए तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

क्या है अभिभावकों का कहना

शरद कुमार जैन ने बताया कि सिल्वर बेल्स स्कूल की बस गंगेरू से शामली बच्चों को लेकर लेती है, जिसमें सभी लड़कियां जाती हैं। दो बाइक जिन पर 6 लड़के थे, उन्होंने बस के पीछे बाइक लगाई और पीछे चलने लगे। ड्राईवर ने सोचा कि नॉर्मल लोग ही होंगे। लेकिन छुट्टी होने के बाद बस जब शामली से चली तो उन्होंने फिर से बाइक से बस का पीछा करना शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें: लखनऊ: कृष्णानगर के भोला खेड़ा में स्कूली छात्रा को ट्रक ने रौंदा, हालत गंभीर

आगे की स्लाइड में पढ़िए पूरी खबर

पंजौखरा गांव आने तक उन्होंने कई बार बस को रोकने की कोशिश की। लेकिन ड्राइवर ने अपनी समझदारी से किसी तरह बस को उनके चंगुल से निकाला। 100 नंबर पर फोन किया, लेकिन फोन नहीं उठा। उसके बाद अभिभावको को फोन किया। तब कांधला थाने में सूचना दी। यहां से पुलिस की गाड़ी जब तक गई, तब वे भाग गए। वे शायद किसी बच्चे का अपहरण करना चाहते हैं। थाने में तहरीर दे दी है। मगर अभी तक पुलिस की तरफ से कोई एक्शन नहीं लिया गया है। हमने बाइक के नंबर, बाइक के मालिक का नाम, फोन नंबर निकलवाकर पुलिस को दे दिए हैं। मगर अभी तक पुलिस की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

क्या है पुलिस का कहना

कांधला थाना के दरोगा रावत सिंह ने बताया कि बच्चों के अभिभावक आए थे। एक स्कूल की बस आ रही थी। उसके पीछे दो बाइक से 6 लोग पीछा कर रहे थे। उनका क्या उदेश्य था, ये पता नहीं है। उनकी पहचान नहीं हो सकी, अभी बाइक के नंबर मिले हैं। उसी के आधार पर हम कार्रवाई में आगे बढ़ रहे हैं।

Next Story