Top

चोटी काटने के शक में दलित वृद्धा को चुड़ैल बताकर मार डाला, परिजनों में आक्रोश

By

Published on 3 Aug 2017 5:59 AM GMT

चोटी काटने के शक में दलित वृद्धा को चुड़ैल बताकर मार डाला, परिजनों में आक्रोश
X
उत्तर प्रदेश में आगरा सहित कई जिलों में रात में महिलाओं के बाल काटने की घटनाएं हो रही हैं। आगरा में फतेहाबाद के डौकी थाना क्षेत्र में महिलाओं की चोटी कटने की अफवाह में दलित वृद्ध महिला की जान चली गई।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

आगरा: उत्तर प्रदेश में आगरा सहित कई जिलों में रात में महिलाओं के बाल काटने की घटनाएं हो रही हैं। आगरा में फतेहाबाद के डौकी थाना क्षेत्र में महिलाओं की चोटी कटने की अफवाह में दलित वृद्ध महिला की जान चली गई। गांव के लोगों ने तड़के शौच को गई महिला को पीट-पीटकर मार डाला। मामले में महिला के बेटों ने दो लोगों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

क्या है पूरा मामला

-बुधवार तड़के 4 बजे थाना डौकी के मुटनइ गांव निवासी 62 वर्षीय मान देवी शौच के लिए बाहर गईं थीं।

-अंधेरा होने के चलते वे रास्ता भटक गईं और दूसरी बस्ती में पहुंच गईं।

-दूसरी बस्ती के लोगों ने महिला को चुड़़ैल समझ पीटना शुरू कर दिया।

-मृतका के परिजनों ने बताया कि महिला चिल्लाकर अपना नाम और पहचान बताती रही, लेकिन वहां मौजूद लोगों में से किसी ने विधवा महिला की नहीं सुनी।

-महिला को मरणासन्न करके छोड़ दिया।

-पुलिस ने वृद्धा को प्रारंभिक इलाज के बाद महिला को घर भेज दिया, लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई।

क्या कहना है पुलिस का

इस घटना के बाद गांव में दहशत और तनाव का माहौल है। पुलिस का कहना है कि इस संबंध में तहरीर दी गई है। जांच पड़ताल कर कार्रवाई की जाएगी। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

आगे की स्लाइड में जानिए और कहां-कहां हो रहे चोटी काटने के मामले

दिल्ली के गांव में भी फैली दहशत

राजधानी दिल्ली के गांव भी इस दहशत से अछूते नहीं हैं। इस घटना से पहले दिल्ली के छावला के गांव कांगनहेड़ा में महिलाओं की चोटी कटने की घटना को लेकर दहशत फैल गई। यहां तीन महिलाओं की चोटी कटने की खबर है। इसके बाद ग्रामीणों में दहशत फैली।

दहशत का आलम यह है कि छोटी-छोटी बच्चियों से लेकर बुजुर्ग महिलाओं तक ने बालों में चोटी नहीं गूथी। अधिकांश महिलाएं जूड़ा और बालों में कपड़ा बांधकर घरों में कैद रहीं। दिल्ली के पालम इलाके में एक महिला के बाल काटने से सनसनी फैल गई। वैसे इस महिला को कांगनहेड़ी की तरह बाल कटने के दौरान चक्कर और सिरदर्द होने की बात सामने नहीं आई हैं। घटना की जानकारी पीडि़ता के पुत्र ने पुलिस को भी दी है। ग्रामीणों में तांत्रिक ताकतों से लेकर किसी अपराधी की करतूत जैसी बातों की चर्चाएं हो रही हैं।

आगे की स्लाइड में जानिए मथुरा में कितने मामले आए सामने

मथुरा में तीन दिनों में पांच घटनाएं

ब्रज इलाके में रहस्यमय तरीके से महिलाओं की चोटियां काटने की घटनाओं से दहशत का माहौल बन गया है। इलाके में चोटियां कटने की अफवाहों का बाजार गर्म है। वैसे अभी तक इस मामले में कोई रिपोर्ट नहीं दर्ज हुई है। मथुरा में तीन दिनों के भीतर पांच घटनाएं हुई हैं। लोगों में दहशत को देखते हुए पुलिस व प्रशासन ने लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी है। मंगलवार को आगरा के अछनेरा स्थित गांव मांगरौल जाट में एक महिला 35 वर्षीय मछला देवी की चोटी कटी मिली।

कुछ दिन पहले आगरा के कागारौल में सबसे पहले इस तरह की घटना सामने आई थी, जिसके बाद चीतपुर में भी इसी तरह से दो किशोरियों के बाल कटे मिले थे। मथुरा के गांव शीशराम में नवल सिंह की 52 वर्षीय पत्नी प्रेमवती की चोटी कटी मिली। दहशत में वह बेहोश हो गईं। कोसीकलां में मंगलवार सुबह दस बजे मोहल्ला निकासा निवासी मुन्शी की 35 वर्षीय पुत्री अफरोश की अचानक चोटी कट गई।

क्षेत्र के लालपुर व नगला उटावर में भी तीन महिलाओं के साथ ऐसी ही घटनाएं होने की खबर है। इसी तरह नंदगांव के छाजू थोक में माया नामक महिला की चोटी कट गई। घटना के समय महिला बेहोश हो गयी थी। ऐसे ही बरसाना के गांव सहार के नगला नहर में वसीम की 22 वर्षीय पत्नी सलमा की चोटी कटी और वे बेहोश हो गईं। चोटी कटने का पहला मामला आगरा से सटे राजस्थान के भरतपुर जिले में सामने आया था। मथुरा के एसएसपी स्वपनिल ममगई का कहना है कि अभी किसी ने किसी ने कोई एफआईआर दर्ज नहीं कराई है मगर हम हालात पर नजर रखे हुए हैं।

आगे की स्लाइड में जानिए फिरोजाबाद का ऐसा ही मामला

फिरोजाबाद: दिल्ली मथुरा व आगरा के बाद अब फ़िरोज़ाबाद में भी चोटी काटने का सिलसिला पहुंच गया है। फिरोजाबाद में यह पहला मामला है, जहां अभी तक दूसरे जिलों से खबरें आ रही थीं, वहीं आज फ़िरोज़ाबाद के लोग भी इसी दहशत में आ गए हैं।

क्या है पूरा मामला

-मामला फ़िरोज़ाबाद जिले के शिकोहाबाद थाना क्षेत्र के गांव आमरी का है।

-जहां पिंकी नाम की किशोरी अपने परिवार के साथ घर में रात 12 बजे टीवी देख कर सोई थी।

-पिंकी ने बताया रात को सोने से पहले चक्कर आने लगे, तो मां को बताया।

-फिर मां ने सोने को कह कर जमीन पर लिटा दिया। लेटने के बाद जैसे ही मैं सोई, तभी कैंची से बाल कटने की आवाज सुनी।

-जागते ही देखा बाल जमीन पर पड़े हुए थे। इसकी जानकारी उसने अपनी मां व अन्य घर वालों को दी।

-तो गांव के व आस-पास के पुरूष-महिलाएं उसे देखने को उसके घर पहुंच गईं।

पूरे गांव में इसके बाद दहशत का माहौल बना हुआ है।

ग्रामीणों ने अपने दरवाजों के बहार टोटके भी करना शुरू कर दिए हैं।

Next Story