Top

दाऊद इब्राहिम के नाम पर मांग रहे थे पैसा, अब जेल में तोड़ेंगे रोटी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 9 July 2017 11:36 AM GMT

दाऊद इब्राहिम के नाम पर मांग रहे थे पैसा, अब जेल में तोड़ेंगे रोटी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फतेहपुर : अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम तथा बाहुबली अतीक अहमद के नाम से धमकाकर अलग-अलग चार व्यक्तियों को एसएमएस व कॉल कर लाखों रुपये की फिरौती मांगने वाले युवक को पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस अधीक्षक कवींद्र प्रताप सिंह के दिशा निर्देश पर कोतवाली प्रभारी सच्चिदानंद त्रिपाठी के अलावा क्राइम ब्रांच की टीम ने सर्विलांस प्रभारी की मदद से अभियुक्त को दबोचा। साथ ही मोबाइल भी बरामद किया, जिससे मैसेज किया गया था।

पुलिस ने कहा कि शहर क्षेत्र के आईटीआई रोड निवासी हिंदू महासभा के नेता मनोज त्रिवेदी ने 10 लाख रुपये की फिरौती मांगे जाने की तहरीर दी थी। साथ ही बिंदकी निवासी मनोज कुमार सिंह ने 10 लाख, प्रतापगढ़ निवासी इसरार अहमद ने 10 लाख रुपये और लखनऊ निवासी मो. रईस उर्फ रईस ने 14 लाख रुपये फिरौती मांगने की तहरीर दी थी।

सभी घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए स्वाट टीम सर्विलांस व पुलिस टीम को लगाया गया।

जानकारी मिली कि फतेहपुर निवासी अभियुक्त महफूज अली, जो अपने दोस्त गफ्फूर के साथ आम का व्यवसाय करता था। पैसे के लेन-देन में दोनों में मनमुटाव हो गया। इसी कारण अभियुक्त महफूज अली ने फर्जी आईडी लगाकर सिम कार्ड प्राप्त कर गफ्फूर को फंसाने की नीयत से रुपये की मांग करने का मैसेज भेजा था।

अभियुक्त को गिरफ्तार कर मोबाइल बरामद कर लिया गया।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story