Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

4 दिनों से लापता थे मामा भांजे, इस हालत में मिले दोनों के शव

4 दिनों से लापता मामा भांजे के शव जंगलों में जले हुए मिलने से हड़कंप मच गया है।

Afsar Haq

Afsar HaqReporter Afsar HaqMonikaPublished By Monika

Published on 4 May 2021 9:12 AM GMT

Burnt dead body of two found in jungle
X

 जंगल में मिला मामा भांजे का जला शव (फाइल फोटो)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जालौन: जालौन (Jalaun) से एक ऐसी खबर सामने आई है जिसे पढ़कर आप भी दहशत में आ जाएंगे। 4 दिनों से लापता मामा भांजे के शव (dead body) जंगलों में जले हुए मिलने से हड़कंप मच गया है। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस (Police) ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम (Postmortem)के लिए भेजा। वही जांच पड़ताल में जुटी परिजनों ने हत्या का आरोप लगाकर 2 लोगों के खिलाफ तहरीर दी । अब हत्या के मामले को लेकर पुलिस जांच पड़ताल कर रही है।

बता दे, उरई के कांशीराम कॉलोनी निवासी राशिद (25) पुत्र बसीर व उसका मामा इंदिरा नगर निवासी नसीम (22) पुत्र शेरखान बीती 29 अप्रैल को संदिग्ध हालात में लापता हो गए थे। दोनों कोंच बस स्टैंड पर चूड़ी की दुकान पर बैठते थे। जब शाम के समय मामा भांजे अपने अपने घर नहीं पहुंचे तो परिजनों ने इसकी शिकायत पुलिस में की।

घटना वाले दिन ही नसीम की मां कपूरी एवं राशिद की मां भूरी ने परिजनों के साथ कोतवाली पहुंचकर अपने बेटों के लापता होने के संबंध में तहरीर दी थी। पुलिस ने दोनों लोगों की गुमशुदगी का मुकदमा लिख कर जांच पड़ताल शुरू कर दी थी। लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी।

जूतों व कड़े से हुई पहचान

वही, पुलिस को सोमवार रात सिरसा कलार थाना क्षेत्र के जंगल में पहुंची तो वहां पर एक साथ दो जले हुए शव पड़े मिले। जिससे इलाके में हड़कंप मच गया। अधजले शव होने से उनको पहचान पाना मुश्किल था। जिस पर पुलिस ने मौके पर लापता मामा-भांजे के परिजनों को बुलाया तब जूतों व कड़े से उनकी पहचान चार दिन से लापता नसीम व राशिद के रूप में हुई। दोनो मृतकों की मां कपूरी व रूबी का कहना है कि पुलिस ने उनके बेटों के अगवा करने वालों को पहले शिकायत मिलते ही पकड़ लिया होता तो उनकी जान बच गई होती। पुलिस का कहना है कि इस मामले को गंभीरता से लेते हुए तहकीकात की जा रही है। जल्द आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Monika

Monika

Next Story