Top

Farrukhabad Crime News : 3 माह में 8 करोड़ से अधिक की बिजली चोरी, विद्युत अधिकारियों में मची हलचल

Farrukhabad Crime News : फर्रुखाबाद बिजली विभाग में 3 महीने तक कई क्षेत्रों में करोड़ों की बिजली चोरी हो चुकी है।

Dilip Katiyar

Dilip KatiyarReport Dilip KatiyarShraddhaPublished By Shraddha

Published on 9 July 2021 6:26 AM GMT

तीन महीने में करोड़ों की बिजली चोरी हो चुकी
X

तीन महीने में करोड़ों की बिजली चोरी हो चुकी 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Farrukhabad Crime News : फर्रुखाबाद जिले (Farrukhabad District) में बिजली विभाग के क्या कहने। पिछले अप्रैल से जून महीने से अब तक शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में कई करोड़ की बिजली चोरी (Electricity theft) हो चुकी है। शहरी क्षेत्र में आठ करोड़ की बिजली चोरी हो गई। वहीं ग्रामीण क्षेत्र में 85 फीसद लाइन लास दर्ज किया गया। मुख्य अभियंता को मामले की जानकारी हुई तो उन्होंने अपने कर्मचरियो को नोटिस जारी कर दिए हैं।

फर्रुखाबाद में कोरोना क‌र्फ्यू के चलते करीब दो माह तक बिजली कर्मचारी फील्ड में काम नहीं कर सके। काम न करने से जगह जगह लाइन लास बढ़ गया। शहर क्षेत्र में 30 जून तक आठ करोड़ रुपये की बिजली चोरी कर ली गई। अधिक नुकसान होने पर विद्युत अधिकारियों में हलचल है। जिन फीडरों पर सबसे अधिक बिजली चोरी हो रही है। इसमें कैंट फीडर, मिलेट्री, मिल्क डेरी, चौक, कचहरी, फतेहगढ़, लालगेट, एनएकेपी, आरएमआर, कोल्ड फीडर शामिल हैं। इन फीडरों पर पूर्व में 23 फीसदी के करीब लाइन लॉस था जो अब बढ़कर 45 फीसदी हो गया है।


अधीक्षण अभियंता एस के सिंह

चोरी रोकने के लिए पॉवर कॉर्पोरेशन की टीम विजिलेंस को साथ लेकर छापे मारेगी। जिससे कि लाइन लॉस 15 फीसदी से नीचे आ सके। जब बिजली चोरी रुकेगी तो ऐसे में उपभोक्ताओं को बड़े आराम से 24 घंटे बिजली भी मिल सकेगी। नगर क्षेत्र में इसके लिए फीडरों को चिन्हित कर लिया गया है। इसके अलावा शहर क्षेत्र में जो एक लाख से ऊपर के बड़े बकायेदार हैं उनसे टीम बिजली का बिल जमा कराने का प्रयास करेगी। जो नहीं जमा करेगा उसके कनेक्शन काटे जाएंगे।

गलत बिलिंग को लेकर कहा गया है कि इसमें सुधार लाएं और जो एजेंसी लगी है उसके खिलाफ कार्रवाई की जाए। अधीक्षण अभियंता एस के सिंह ने बताया कि जिन फीडरों पर लाइन लास अधिक है वहां बिजली टीम विजिलेंस टीम को साथ लेकर चेकिंग अभियान चलाएगी। लोगों से बिजली बिल जमा कराने के लिए भी कहा जाएगा। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्र के 50 फीडर भी चिन्हित किए गए हैं, जहां पर लाइन लॉस अधिक है।

Shraddha

Shraddha

Next Story