Top

गुजरात : पूर्व बीजेपी विधायक भानुशाली की चलती ट्रेन में गोली मारकर हत्या

कच्छ से पूर्व बीजेपी विधायक जयंती भानूशाली की चलती ट्रेन में गोली मारकर हत्या कर दी गई। भानूशाली सयाजी नगरी ट्रेन से भुज से अहमदाबाद जा रहे थे। मिली जानकारी के मुताबिक ट्रेन जब मालिया स्टेशन पर ठहरी तो बदमाश एसी कोच में दाखिल हुए और भानूशाली पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा उनकी हत्या कर दी।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 8 Jan 2019 3:59 AM GMT

गुजरात : पूर्व बीजेपी विधायक भानुशाली की चलती ट्रेन में गोली मारकर हत्या
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अहमदाबाद : कच्छ से पूर्व बीजेपी विधायक जयंती भानूशाली की चलती ट्रेन में गोली मारकर हत्या कर दी गई। भानूशाली सयाजी नगरी ट्रेन से भुज से अहमदाबाद जा रहे थे। मिली जानकारी के मुताबिक ट्रेन जब मालिया स्टेशन पर ठहरी तो बदमाश एसी कोच में दाखिल हुए और भानूशाली पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा उनकी हत्या कर दी।

ये भी देखें : भाई अखिलेश के बचाव में उतरे प्रसपा नेता आदित्य, कहा- CBI की कार्रवाई बीजेपी का राजनीतिक स्टंट

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और जांच शुरू कर दी है।

सूत्रों के मुताबिक साल 2018 में सूरत में एक स्टूडेंट के साथ रेप के मामले में नाम आने पर उन्हें बीजेपी उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा देना पड़ा था. इस मामले मे क्राइम ब्रांच की जांच चल रही हे। पुलिस इसे भी हत्या से जोड़कर देख रही है।

ये भी देखें : CBI का दावा: बगैर ई-टेंडरिंग के अखिलेश 14 और गायत्री ने 8 फाइलों को दी थी मंजूरी, जल्द होगी पूछताछ!

आपको बता दें, लड़की ने जज की मौजूदगी में सीआरपीसी की धारा 164 के तहत अपना बयान दर्ज कराया था।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story