Top

SSP दफ्तर पहुंची गैंगरेप विक्टिम, आरोपी ने महिला पर लगाया अपहरण का आरोप

By

Published on 17 Oct 2016 7:54 PM GMT

SSP दफ्तर पहुंची गैंगरेप विक्टिम, आरोपी ने महिला पर लगाया अपहरण का आरोप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठः मेडिकल थाना इलाके के जागृति विहार की रहने वाली गैंगरेप पीड़िता सोमवार को एसएसपी के दफ्तर पहुंची। उसके पास स्पर्म लगा कपड़ा भी था। पीड़िता का आरोप है कि आरोपी समझौते के लिए तीन साल के बेटे को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। महिला के पति का देहांत हो चुका है। उसका ये भी कहना है कि स्पर्म लगे कपड़े का सबूत भी नष्ट किया जा सकता है। वहीं, मुख्य आरोपी महिला पर खुद को अगवा कराने का आरोप लगा रहा है।

क्या है पीड़िता का कहना?

एसएसपी जे रवींद्र गौड़ के दफ्तर पहुंची पीड़ित महिला के मुताबिक 12 अक्टूबर की रात जागृति विहार में रहने वाले छात्र नेता विनीत चपराना अपने दोस्तों विवेक तोमर और दीपक के साथ उसके घर पहुंचा। तीनों ने उससे गैंगरेप किया। किसी से बताने पर बेटे को मार डालने की धमकी दी। इसकी शिकायत उसने एसएसपी से की थी। एसएसपी के कहने पर तीनों आरोपियों पर केस दर्ज हुआ था। महिला ने मेडिकल के बाद धारा 164 के तहत कोर्ट में भी बयान दर्ज कराया है।

पीड़ित महिला का क्या है आरोप?

महिला के मुताबिक आरोपी उसे और तीन साल के बेटे को जान से मारने की लगातार धमकी दे रहे हैं। छात्र नेता विनीत चपराना ने उसकी हत्या के लिए अपने गुर्गों को लगाया है। उसने बताया कि आरोपी स्पर्म लगे कपड़े से सबूत मिटाने की कोशिश में हैं और उसे सबूत खत्म होने का डर है। महिला ने एसएसपी से गुहार लगाई है कि कपड़े को सीलबंद कराने के लिए थाने को आदेश दें।

मुख्य आरोपी ने क्या कहा?

उधर, मुख्य आरोपी विनीत शुक्रवार को घायल हालत में गढ़ रोड स्थित भाग्यश्री हॉस्पिटल में एडमिट मिला था। उसने पूछताछ में बताया कि महिला और उसकी एक साथी ने कुछ कागजात दिखाने के लिए घर पर बुलाया था। वहां, नशीला पेय पिलाकर बेहोश कर दिया गया। विनीत का कहना है कि महिला के घर पर मौजूद शाहनवाज नाम के शख्स ने पिस्टल दिखाकर बाद में उसका अपहरण किया। आरोपी ने कहा कि महिला जानबूझकर उसे फंसा रही है।

Next Story