शर्मनाक: नाबालिग बच्ची से दबंगों ने किया गैंगरेप, मामला दर्ज

कानपुर: गांव के ही दबंगों ने एक नाबालिग बच्ची को खेतो की झाड़ियो के बीच खीच कर ले गए। दोनों यूवको ने उसके साथ गैंग रेप किया। जब नाबालिग की हालत बिगड़ गयी तो उसे छोड़ कर भाग गए। पीड़िता के परिजनों ने पुलिस को सूचना देने के बाद एक प्राइवेट हास्पिटल में एडमिट कराया था।

यह भी पढ़ें: मुलायम को शिवपाल लड़ाना चाहते हैं सेकुलर मोर्चा से लोकसभा चुनाव, दिया इस सीट का ऑफर

मगर पुलिस ने तीन दिनों तक पीड़िता के साथ हुई हैवानियत का नही मुकदमा दर्ज किया था और न ही आरोपियों के खिलाफ कार्यवाई। बल्कि पुलिस इस मामले को दबाने में लगी थी। लेकिन शनिवार शाम अचानक पीड़िता की हालत ख़राब हो गयी और प्राइवेट नर्सिंग होम ने उसे हैलट के लिए रेफर कर दिया।

पीड़िता जैसे ही हैलट अस्पताल पहुची तो पूरा मामला मिडिया की नजर में आ गया। मामले को बढ़ता देख पुलिस ने शनिवार रात को मुकदमा दर्ज किया और एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया।

महाराजपुर थाना क्षेत्र स्थित सरसौल गाँव में बीते गुरुवार शाम के वक्त नाबालिग (14) पड़ोस में रहने वाली चचेरी बहन (13) के साथ शौच के लिए गयी थी। खेतो पर पहले से अजय सविता और अनिरुद्ध कुशवाहा मौजूद थे । अजय और अनिरुद्ध ने दोनों नाबालिग बच्चियों को दबोच लिया।

युवको के चुंगल के चुंगल से चचेरी बहन अपने आप को छुडा कर भाग गयी। लेकिन युवक नाबालिग को झाड़ियो पर उठाकर कर ले गए और उसके साथ बारी-बारी  से गैंग रेप किया। बेहोशी की हालत में नाबालिग को छोड़ कर भाग गए।

उधर चचेरी बहन ने घर में जाकर परिजनों को पूरी बात बताई। बड़ी संख्या में ग्रामीण टार्च लेकर खेतो पर बच्ची की तलाश करते रहे। डेढ़ घंटे बाद परिजनों ने उसे लहूलुहान हालत में झाड़ियो से बेहोशी की हालत में ढूंढ निकाला । घटना की जानकारी पुलिस को देते हुए एक प्राइवेट नर्सिंग होम में भर्ती कराया।

लेकिन पुलिस की उदासीनता इतनी भयावह रही कि उसने नाबालिग के साथ हुई हैवानियाटका मुकदमा तक नही दर्ज किया। आरोपी युवक खुले आम गाँव में घूमते रहे और पीड़िता के परिवार को जान से मारने की धमकी देते रहे । वही पुलिस भी इस मामले को दबाने में जुट गयी।

जब शनिवार को नाबालिग की हालत बिगड़ी तो प्राइवेट नर्सिंग होम ने जवाब दे दिया और हैलट रेफर कर दिया। परिजन जब बच्ची को लेकर हैलट अस्पताल पहुचे तो पूरा मामला खुल गया और तब जाकर पुलिस की नींद टूटी आनन फानन महाराज पुलिस भी हैलट अस्पताल पहुच गयी। बच्ची का उपचार शुरू कराया गया और उसे आईसीयू में शिफ्ट किया गया । पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए देर रात अजय सविता को गिरफ्तार कर लिया वही अनिरुद्ध कुशवाहा अभी फरार है।

एसपी ग्रामीण प्रदुमन सिंह के मुताबिक एक बच्ची के साथ गैंग रेप का मामला प्रकाश में आया है। परिजनों की तहरीर मुकदमा दर्ज किया है एक आरोपी की गिरफ़्तारी की है और दूसरे की गिरफ़्तारी के लिए तीम गठित की गयी है। वहीं बच्ची को उपचार के लिए हैलट अस्पताल में भर्ती कराया गया है।