Top

Ghaziabad Crime News: BSP के पूर्व विधायक बने हत्यारे, कलंक मिटाने के लिए उठाया ये खौफनाक कदम

Ghaziabad Crime News: गाजियाबाद से वारदात की बड़ी खबर है। यहां एक पूर्व विधायक बना हत्यारा। हिस्ट्रीशीटर की कर दी हत्या।

Bobby Goswami

Bobby GoswamiReport Bobby GoswamiVidushi MishraPublished By Vidushi Mishra

Published on 12 July 2021 9:28 AM GMT

Missing youth
X
हत्या की आशंका (काॅन्सेप्ट फोटो- सोशल मीडिया)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Ghaziabad Crime News: गाजियाबाद में अपने परिवार के माथे से हत्या का कलंक मिटाने के लिए एक पूर्व विधायक हत्यारा बन गया और उसने एक हिस्ट्रीशीटर की हत्या कर दी।मामला बेहद चौंकाने वाला है। आरोपी पूर्व विधायक और उसके दो साथियों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार साथियों में एक आरोपी विधायक का भतीजा भी है।

कल मुरादनगर इलाके में मिली थी समीर की लाश

गाजियाबाद में मुरादनगर पुलिस ने मुरादनगर के पूर्व बसपा विधायक वहाब चौधरी की गिरफ्तारी की है। उसके साथ उसके भतीजे और एक अन्य युवक को भी गिरफ्तार किया गया है।

पूर्व बसपा विधायक वहाब चौधरी गिरफ्तार (फोटो- सोशल मीडिया)

दरअसल कल मुरादनगर इलाके में समीर नाम के युवक की हत्या करके लाश को खाली प्लॉट में फेंक दिया गया था।इस मामले में पुलिस ने जांच की तो पूर्व विधायक वहाब चौधरी का नाम आया। वहाब चौधरी की गिरफ्तारी के साथ दो अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया।

फोटो- सोशल मीडिया

पिछले साल हुई थी विधायक के भाई की पत्नी की हत्या

यह मामला पिछले साल हुई वहाब चौधरी के भाई आस मोहम्मद की पत्नी की हत्या से भी जुड़ा हुआ है। पिछले साल मई महीने में वहाब चौधरी के भाई आस मोहम्मद की पत्नी की हत्या कर दी गई थी।

इस हत्या को किसी और ने नहीं,बल्कि विधायक के भाई ने अपने साथियों के साथ अंजाम दिया था। आरोपी साथियो में समीर भी शामिल था। जिसकी कल लाश मिली। समीर हाल ही में उस मामले में मिली जमानत के बाद जेल से बाहर आया था।

समीर के खून से मिटेगा कलंक

जब विधायक के भाई की पत्नी की हत्या हुई थी,तो विधायक का भाई आस मोहम्मद और समीर के अलावा एक अन्य युवक जेल चले गए थे।कुछ समय पहले समीर जेल से बाहर आया,तो विधायक वहाब चौधरी को लगा,कि यह सबसे अच्छा मौका है। प्लानिंग बनाई गई की समीर की हत्या कर देते हैं।

हत्या करके यह दर्शाया जाना था कि विधायक के भाई की पत्नी की हत्या में सिर्फ समीर शामिल था।जिससे बाकी परिवार के माथे पर लगा हुआ हत्या का कलंक मिट सके।इस प्लानिंग को करने वाला पूर्व विधायक वहाब चौधरी था।जिसके बारे में तमाम सबूत पुलिस के पास है। मामले में पुलिस आगे की जांच पड़ताल कर रही है।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story