Top

Gonda Cyber Crime News: पुलिस ने साइबर अपराधियों पर कसा शिकंजा, पीड़ितों को वापस कराए करीब 15 लाख रुपए

Gonda Cyber Crime News: ऑनलाइन धोखाधड़ी के मामले में अलग-अलग थाना क्षेत्रों से ठगी के शिकार हुए 23 लोगों को पुलिस द्वारा 15 लाख रुपए वापस कराए गए।

Tej Pratap Singh

Tej Pratap SinghReport Tej Pratap SinghChitra SinghPublished By Chitra Singh

Published on 2 July 2021 11:54 AM GMT

Gonda Cyber Crime
X

गोंडा पुलिस 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Gonda Cyber Crime News: पुलिस द्वारा साइबर अपराधियों (Cyber Criminals) के विरुद्ध चलाए गए अभियान में जनपद पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। ऑनलाइन धोखाधड़ी के मामले में अलग-अलग थाना क्षेत्रों से ठगी के शिकार हुए 23 लोगों को पुलिस द्वारा 14 लाख 70 हजार 285 रुपए वापस कराए जाने पर पीड़ितों के चेहरे खिल उठे।

बताते चलें कि वर्तमान समय में साइबर अपराधियों द्वारा लाटरी, ऑनलाइन केवाईसी दामों पर गाड़ी खरीदने बेचने, टावर लगवाने, बोनस पॉइंट देने, क्रेडिट लिमिट बढ़वाने, पैसे रिफंड करवाने, रिमोट एक्सेस ऐप डाउनलोड, सस्ते दामों पर इलेक्ट्रॉनिक सामान खरीदने जैसे प्रलोभन देकर उन्हें ठगी का शिकार बनाया जा रहा है ।

पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि साइबर अपराधियों के विरुद्ध चलाए गए अभियान में साइबर सेल में 23 पीड़ितों ने मामला दर्ज कराया था, जिनमें से एक डॉक्टर के खाते से 3 लाख 50 हजार रुपए निकाल लिए गए थे। इसी तरह अन्य 22 लोगों को मिलाकर करीब 15 लाख रुपए ठगे गए थे, जिन्हें आज वापस कराया गया है।

उन्होंने लोगों से अपील किया कि साइबर ठगी से बचने हेतु ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करते समय पैसे फंस जाने पर कभी भी कंपनी के कस्टमर केयर नंबर को गूगल से सर्च न करें। सम्बंधित कंपनी के ऐप में ही कांटेक्ट नंबर होता है। वही से सम्पर्क करें एवं अपने बैंक को तत्काल इसकी सूचना दें। किसी भी अंजान व्यक्ति के फोन कॉल पर कभी भी बैक डिटेल, एटीएम डिटेल शेयर न करें। इसके अतिरिक्त यदि किसी कारणवश ठगी का शिकार हो जाते हैं तो 12 से 24 घंटे के भीतर पूरी डिटेल के साथ साइबर सेल को सूचित करें, ताकि पैसे को वापस कराया जा सके।

Chitra Singh

Chitra Singh

Next Story