×

Gorakhpur Crime News : गोरखपुर में चली ताबड़तोड़ गोलियां, आर्केस्ट्रा देखने का हुआ विवाद, फायरिंग में एक ही परिवार के दो लोगों की हत्या

Gorakhpur Crime News : गोरखपुर में झंगहा थानाक्षेत्र में बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर एक ही परिवार के दो सदस्यों की हत्या कर दी।

Purnima Srivastava
Published on 28 Nov 2021 12:30 PM GMT
America Mein Firing: अमेरिका के शॉपिंग मॉल में ताबड़तोड़ चली गोलियां, इधर-उधर भागे लोग, 2 की मौत, 4 घायल
X

फायरिंग (सांकेतिक फोटो साभार- सोशल मीडिया) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Gorakhpur Crime News : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को गोरखपुर में विभिन्न कार्यक्रमों में शिरकत कर रहे थे, उसी दौरान झंगहा थानाक्षेत्र में बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग (Gorakhpur Mein Firing) कर एक ही परिवार के दो सदस्यों की हत्या कर दी। गोली लगने से घायल दो युवतियों समेत तीन लोग गम्भीर रूप से घायल हैं। सभी का गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है। पुलिस मामले को लेकर सक्रिय हो गई है। हत्यारोपित घर छोड़कर फरार हो गए हैं। गांव में तनाव देखते हुए छह थानों की पुलिस तैनात कर दी गई है।

गोरखपुर के झंगहा के जद्दूपुर में पिछले दिनों छठ पर्व के दिन मकसूदन निषाद और श्याम यादव के परिवार के बीच आर्केस्ट्रा देखने को लेकर विवाद हो गया था। आर्केस्ट्रा देखने के दौरान हुई मारपीट में गांव के श्याम यादव का सिर फट गया था।

लाठी डंडा व असलहे से ताबड़तोड़ हमला

मामले में पुलिस ने मकसूदन साहनी व पवन साहनी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। जिसे लेकर मकसूदन और उसके समर्थक नाराज चल रहे थे। रविवार दोपहर करीब 12 बजे गांव का गुलशन निषाद अपने दर्जन भर साथियों के साथ श्याम यादव का घर घेर लिया। परिवार के लोगों पर लाठी डंडा व असलहे से हमला कर दिया।


इस दौरान परिवार के लोगों ने भागकर अपनी जान बचाने की कोशिश की तो बदमाशों ने उन्हें भी दौड़ाकर गोली मार दी। गोली लगने से श्याम यादव के चचेरे भाई 20 वर्षीय विशाल यादव पुत्र रामायण यादव की मौके पर ही मौत हो गई।

वहीं बड़े पिता 65 वर्षीय रामकिशुन यादव पुत्र स्व. रामजीत यादव, समेत चार लोगों को इलाज के लिए मेडिकल कालेज ले जाया गया। वहां चिकित्सकों ने रामकिशुन को मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद आरोपित परिवार समेत गांव छोड़कर भाग गए।

घटनास्थल पर आधा दर्जन थाने की पुलिस तैनात हो गई है। हत्यारोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की कुल छह टीमें लगाई हैं। घटना के बाद से हत्यारोपित परिवार समेत घर छोड़कर फरार हो गए हैं।


Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story