Top

अवैध संबंध से दूरी बनाना चाहती थी श्वेता, कर दी गला रेतकर हत्या

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 7 Jan 2018 1:52 PM GMT

अवैध संबंध से दूरी बनाना चाहती थी श्वेता, कर दी गला रेतकर हत्या
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा : अवैध संबंधों के चलते छिजारसी में श्वेता सिंह की हत्या की गई थी। पुलिस ने वारदात का खुलासा करते हुए आरोपी विनोद को छिजारसी से ही गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल किया गया चाकू भी बरामद किया है।

आरोपी विनोद के खिलाफ मृतका के पति ने मामला दर्ज कराया गया था। जिसके बाद से वह फरार चल रहा था। पूछताछ में विनोद ने बताया कि मृतका श्वेता सिंह के साथ काफी दिनो से उसके अवैध संबंध थे। लेकिन जब श्वेता उससे दूरी बनाने लगी तो उसने चाकू से गला रेतकर उसकी हत्या कर और वहां से भाग गया था। घटना 28 दिसंबर की दिन की थी।

छह महीने पहले हुई थी मुलाकात

बताया गया कि आरोपी विनोद की मुलाकात छह महीने पहले श्वेता से हुई थी। इसके बाद से ही दोनों के बीच अवैध संबंध हो गए। हत्या से एक सप्ताह पहले से श्वेता उससे दूरी बनाने लगी थी। यह बात विनोद को नागवार लगी। इसको लेकर दोनों के बीच कई बार बहस भी हुई थी। ऐसे में 28 दिसंबर को दिन में विनोद ने श्वेता की हत्या कर दी।

मानसिक रूप से विक्षिप्त है आरोपी

हत्या की वजह जानकार सभी को हैरानी थी। पति व परिजन इस बात को मानने को तैयार नहीं है। हालांकि पति ने विनोद के नाम ही तहरीर दी थी। पुलिस ने उसी तहरीर के आधार पर जांच शुरू की। छिजारसी से विनोद को गिरफ्तार किया गया पूछताछ में हत्या की बात कबूल की। बताया जा रहा है कि वह मानसिक रूप से कमजोर है।

क्या था मामला

श्वेता अपने पति व चार साल के बच्चे के साथ छिजारसी में रहती थी। पति पंकज सेक्टर-63 स्थित एक कंपनी में काम करता है। घटना के समय पति काम पर गया था। बताया गया कि ग्यारह बजे के आसपास श्वेता दुकान से सामान लेकर घर आई थी। श्वेता का बेटा बाहर खेलने गया था। इस दौरान वह घर में अकेली थी। दोपहर में विनोद श्वेता के घर गया। वहां दोनों के बीच कहा सुनी हुई। इसके बाद उसने श्वेता की गला रेतकर हत्या कर दी।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story