Top

खबर का असर : पत्रकार के हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 28 May 2018 2:14 PM GMT

खबर का असर : पत्रकार के हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शाहजहांपुर : एक बार फिर newstrack.com की खबर का बङा असर हुआ है। यहां डीएम कार्यालय के बाहर भू माफियाओं ने पत्रकार पर जानलेवा हमला किया था। पुलिस महज जांच की बात कर रही थी। लेकिन पुलिस ने मुकदमा दर्ज नही किया था। लेकिन हमारी खबर का संज्ञान लेते हुए यूपी पुलिस ने शाहजहांपुर पुलिस को ट्वीट कर कार्यवाही करने आदेश दिए है। घायल पत्रकार को जिला अस्पताल मे भर्ती कराया गया था। जहां उसका इलाज किया जा रहा है। पुलिस प्रशासन पर सबसे बङा सवाल ये उठ रहा है कि सबसे ज्यादा सुरक्षित माने जाने वाला डीएम कार्यालय पर पत्रकार पर हमला हो जाता है और पुलिस कई घंटे बीत जाने के बाद भी आरोपी भू माफियाओं को गिरफ्तार तक नही कर पाई है।

ये भी देखें : बिहार : जोकीहाट उपचुनाव में मतदान रहा शांतिपूर्ण, करीब 53 प्रतिशत वोटिंग

आज थाना सदर बाजार क्षेत्र मे डीएम कार्यालय के बाहर कवरेज कर रहे सोशल मीडिया के पत्रकार मेहराज उददीन पर भू माफियाओं ने जानलेवा हमला कर दिया था। उस वक्त जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी अपने ऑफिस में मौजूद थे और उनके सुरक्षाकर्मी पत्रकार की पिटाई का तमाशा देखते रहे। हालांकि घायल पत्रकार को पुलिस ने जिला अस्पताल मे भर्ती करा दिया था। लेकिन पुलिस ने महज जांच की बात कहकर गंभीर मामले को टालते नजर आए।

जब newstrack.com ने इस खबर को प्रमुखता से दिखाया, तब यूपी पुलिस ने इस खबर का संज्ञान लेते हुए शाहजहांपुर पुलिस को ट्वीट के जरिए आवश्यक कार्यवाही करने के आदेश दिए। जिसके बाद आननफानन में घायल पत्रकार की तहरीर के आधार पर थाना सदर बाजार मे आरोपी भू माफियाओं के खिलाफ गंभीर धाराओं मे मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

सीओ सिटी सुमित शुक्ला ने बताया कि पत्रकार मेहराज उददीन पर हमले के मामले मे उनकी तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है साथ ही दबंगों की तलाश शुरू कर दी है।

सीओ सिटी ने newstrack.com से बात करते हुए माना कि ये चिंता का विषय है कि जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर इस तरह से कुछ लोग दबंगई दिखाकर चले जाएंगे। लेकिन उनको किसी भी कीमत पर बख्शा नही जाएगा। जल्द गिरफ्तार सबको जेल भेजा जाएगा।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story