Top

Kanpur Crime News: फर्जी आडियो क्लिप वायरल होने पर 2 लोग गिरफ्तार, सरकार को करते थे बदनाम

इन ऑडियो क्लिप के माध्यम से आरोपी सरकार की छवि को धूमिल करने का हर संभव प्रयास करते थे।

Network

NetworkNewstrack NetworkShashi kant gautamPublished By Shashi kant gautam

Published on 7 Jun 2021 7:51 AM GMT

cyber crime in kanpur
X

आशीष पांडे और हिमांशु सैनी: फोटो- सोशल मीडिया 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Kanpur Crime News: फर्जी आडियो क्लिप और फर्जी खबर के माध्यम से सरकार को बदनाम करने के सोशल मीडिया पर वायरल करने वाले दो एक्सपर्ट को कानपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। कानपुर पुलिस ने बताया कि आरोपियों के फर्जी ट्वीट के चक्कर में पूर्व आईएएस अधिकारी सूर्य प्रताप शाही भी पर भी FIR हो चुकी है। इस सम्बन्ध में पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

बता दें कि कानपुर पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम आशीष पांडे और हिमांशु सैनी है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों द्वारा फर्जी ऑडियो क्लिप बनाकर वायरल की जाती थीं। इन ऑडियो क्लिप के माध्यम से आरोपी सरकार की छवि को धूमिल करने का हर संभव प्रयास करते थे।

फेक न्यूज वायरल करके सरकार को बदनाम करने की साजिश

कानपुर पुलिस के मुताबिक इनके द्वारा फर्जी ऑडियो क्लिप को ट्वीट किए जाने के बाद पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप पर एफआईआर तक दर्ज हो गई थी। पुलिस कमिश्नर कानपुर असीम अरुण ने बताया कि पकड़ में आए दोनों आरोपी बेहद शातिर हैं, जो सरकार को बदनाम करने के लिए रोज नए हथकंड़े अपना रहे थे।

सीएम के पक्ष में ट्वीट करने पर दो रुपये मिलते हैं

उन्होंने बताया कि आरोपियों ने पटना के एक 15 वर्षीय किशोर से पहले फोन पर बात की, उसके बाद उनका ऑडियो एडिट करने के बाद वायरल कर दिया। आरोपियों ने ऑडियो में ये साबित करने का प्रयास किया कि सीएम के पक्ष में ट्वीट करने पर दो रुपये मिलते हैं।

सीएम योगी की सोशल मीडिया सेल से भी जुड़े थे

पुलिस ने बताया कि खास बात ये है कि दोनों आरोपी सीएम योगी की पीआरओ सेल संभालने वाली सोशल मीडिया सेल से भी जुड़े थे। पुलिस दोनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है। एक अन्य मामले में दोनों के खिलाफ क्राइम ब्रांच टीम द्वारा भी जांच की जा रही है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story