Top

कोतवाल साहब करते रहे पुलिसिंग , बदमाशों ने कोतवाली के पीछे लूट लिए 70 हजार

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 27 Sep 2018 1:52 PM GMT

कोतवाल साहब करते रहे पुलिसिंग , बदमाशों ने कोतवाली के पीछे लूट लिए 70 हजार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सुल्तानपुर: अपराधी जेल के सलाखों के पीछे होंगे। लूट हत्‍या और अपहरण जैसे जघन्य अपराधों पर अंकुश लगेगा। यह ऐलान किसी और का नहीं बल्कि प्रदेश के तेज तर्रार मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ का था। सरकार बदली निजाम भी बदल गया। लेकिन अपराधों का ग्राफ बढ़ता ही चला जा रहा है। अपराधी बेखौफ होकर वारदात को अंजाम दे रहे हैं। पुलिस के आलाकमान अधिकारी अपनी पुलसिंग व्यवस्था को व्यवस्थित नहीं कर पा रहे हैं। इसी का परिणाम रहा कि जिले की नगर कोतवाली के अधिकारी पुलिसिंग करते रहे और बदमाशों ने कोतवाली के पीछे ही 70 हजार की लूट को अंजाम दे डाला।

ये है मामला

दिन दहाड़े अपराधी लूट को अंजाम देकर रफूचक्कर हो गए और पुलिस सिर्फ अपनी पुरानी जुबान को दोहरा रही है कि जाँच हो रही है। मामला नगर कोतवाली के ठीक पीछे का है, गुरुवार को दिन दहाड़े फिरोज पुरकला के रहने वाले रियायत उल्ला स्टेट बैंक से 70 हजार रुपये निकाल कर जा रहे थे। बताया जाता है कि जब वह कोतवाली के पीछे गल्ला मंडी के पास पहुंचे ही थे कि अज्ञात बदमाशों ने तमंचे की नोक पर रुपये छीन लिये और मौके से भाग निकले। जब इसकी सूचना पुलिस को लगी तो मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जानकारी कर जांच में जुट गई।

पुलिस संसाधनों से लैस फिर भी हो रही वारदात

ऐसा नहीं है कि जनपद पुलिस के पास पुलिसिया संसाधनों में कोई कमी हो। डायल 100 व्यवस्था के तहत जनपद के चप्पे-चप्पे पर तैनात रहने के आदेश के बाद भी आए दिन हत्‍या और लूट जैसे अपराध पुलिस को सवालों के घेरे में खड़ा कर रहे हैं।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story