Top

खुलासा: फूल बेंचते -बेंचते रच डाली बैंक लूट की साजिश, एक चूक पड़ी भारी

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 26 Sep 2018 1:43 PM GMT

खुलासा: फूल बेंचते -बेंचते रच डाली बैंक लूट की साजिश, एक चूक पड़ी भारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा: पीएनबी में दो सुरक्षा गार्डों की हत्या और लूट के नाकाम प्रयास की घटना पुलिस ने बुधवार को खुलासा कर दिया है। हत्‍या के आरोप में गिरफ्तार मुख्य आरोपी फूल बेचने का काम करता है। आरोपी ने फूल बेचते-बेचते ही बैंक को लूटने की साजिश रची थी। उसने अपने चार दोस्तों के साथ मिलकर बैंक में धावा बोल दिया था। बैंक के गार्ड रूम में सोते वक्त आरोपियों ने दो सुरक्षा गार्डों को बेहोश करने के इरादे से रोड से हमला किया था। लेकिन दोनों सुरक्षा गार्डों की मौत हो गई थी। आरोपियों में एक 12 वर्षीय किशोर भी शमिल है। किशोर ने ही ताला तोड़ने का औजार और लोहे की रॉड उपलब्ध कराई थी। घटना के वक्त किशोर बैंक के बाहर खड़े होकर रेकी कर रहा था। पुलिस ने मंगलवार रात को मुठभेड़ में तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। जबकि, किशोर को पुलिस ने बुधवार को जेजे कालोनी से पकड़ा।

बदमाशों के पैर में लगी थी गोली

सेक्टर-20 पुलिस ने सेक्टर-19 में मुठभेड़ के बाद तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। इनमें दो बदमाशों के पैर में गोली लगी थी। गिरफ्तार बदमाशों की पहचान दिनेश निवासी सेक्टर-4 झुग्गी-झोपड़ी, आकिल खान निवासी पश्चिम बंगाल, आकाश उर्फ मुुंशी के रूप में हुई है। किशोर मयूर विहार दिल्ली में रहता है। जबकि फरार आरोपी की पहचान राजा के रूप में हुई है। एसएसपी डा. अजय पाल शर्मा ने बताया कि दिनेश फूल बेचने का काम करता है। वह बैंक में भी फूल देने जाता था।

एक माह पहले वह जुऐ में उधार लिए गए दो लाख रुपये हार गया था। दस सितंबर को दिनेश बैंक में फूल देने गया था। तभी उसने उधार की रकम चुकाने के लिए पीएनबी बैंक को लूटने की योजना बना डाली। दिनेश ने साजिश में अपने दोस्त आकिल, आकाश, राजा और एक नाबालिग को भी में शामिल कर लिया।

20 अगस्त की रात को पांचो आरोपी ऑटो में बैठकर बैंक लूटने के लिए पहुंच गए। लोहे के रोड लेकर आकाश और आकिल नकाब पहनकर पीछे के रास्ते से दीवार फांदकर बैंक में घुस गए। दोनों बदमाशों ने गार्ड रूम में सो रहे दो गार्डों के सिर में रॉड मारकर हत्या कर दी। इसके बाद आकाश ने गार्ड रूम में रखी सुरक्षा गार्ड की वर्दी पहन ली। दोनों बदमाश ताला तोड़कर बैंक में दाखिल हो गए। आरोपियों ने बैंक के स्ट्रोंग रूम को तोड़ने का प्रयास किया, लेकिन कामयाब नहीं हो सके। एक घंटे तक लूट का प्रयास करने के बाद दोनों बाहर आ गए। बाहर खड़े नाबालिग समेत तीनों बदमाश रेकी करते रहे।

ये चूक बनी गिरफ्तारी की वजह

मुठभेड़ में गिरफ्तार बदमाश मंगलवार शाम को एक होटल के सामने बैठकर बात कर रहे थे। एक बदमाश ने बैंक लूटने के प्रयास का जिक्र करते हुए कहा कि यदि हम बैंक लूट लेते तो इस होटल में मौज करते। उनकी यह बात एक व्यक्ति ने सुन ली। उसने यह बात पुलिस को फोन कर बता दी। इसके बाद पुलिस ने उनकी घेराबंदी कर ली। आरोपी बस अड्डे पर पहुंचकर कहीं भागने की फिराक में थे।

डीवीआर नहीं हुई बरामद

एक फरार बदमाश की पुलिस तलाश कर रही है। पकड़े गए बदमाशों के पास से पुलिस ने दो तमंचे, चाकू और सुरक्षा गार्ड की वर्दी, बरामद की है। अभी डीवीआर बरामद नहीं हो सकी है। डीवीआर बरामद करने के लिए पुलिस कोर्ट में आरोपियों के रिमांड के लिए आवेदन करेगी। बदमाश घटना के बाद डीवीआर अपने साथ ले गए थे।

ये है मामला

बदमाशों ने 20 सितंबर की रात को सेक्टर एक स्थित पीएनबी बैंक में घुसकर लूटपाट का प्रयास किया था। आरोपियों ने बैंक में तैनात दो सुरक्षा गार्डों की पीटकर हत्या कर दी थी। आरोपियों ने बैंक के स्ट्रोंग रूम को तोड़ने का भी प्रयास किया था। लेकिन आरोपी कामयाब नहीं हो सके थे।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story