Top

Lucknow News: कौशल किशोर की बहू अगवा! BJP सांसद के परिवार पर अपहरण का आरोप

Lucknow News: भाजपा सांसद कौशल किशोर की बहू अंकिता 16 जून को बहराइच से लखनऊ पेशी के लिए निकली थी, लेकिन वह कोर्ट पहुंची ही नहीं।

Network

NetworkNewstrack NetworkShivaniPublished By Shivani

Published on 24 Jun 2021 4:42 AM GMT

Kausal Kishore Daughter In Law
X

डिजाइन फोटो

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Lucknow News: उत्तर प्रदेश के मोहनलालगंज से भाजपा सांसद कौशल किशोर (BJP MP Kaushal Kishore) एक बार फिर अपने पारिवारिक विवादों को लेकर चर्चा में हैें। कौशल किशोर के बेटे आयुष (Kaushal Kishore Son Ayush) और बहू अंकिता (Kaushal Kishore Daughter In Law) के बीच चल रहे तनाव में नया मोड़ आया है। सांसद की बहु अचानक लापता हो गई, जिसके बाद अंकिता के पिता ने अपने दामाद और सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष समेत उनके परिवार पर अंकिता के अपहरण का आरोप लगाया है।

16 जून से लापता है सांसद कौशल किशोर की बहु

दरअसल, भाजपा सांसद कौशल किशोर की बहु (Kaushal Kishore Ki Bahu) अंकिता 16 जून को बहराइच से लखनऊ पेशी के लिए आई थी, इस दौरान वह अचानक लापता हो गयी। उसके गायब होने के बाद परिजनों ने तलाश शुरू की, वहीं बीते बुधवार पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर से मिलकर बेटी अंकिता के अपहरण का शक जताते हुए एफआईआर दर्ज कराने के लिए तहरीर दी।

बहराइच जनपद के हुजूरपुर निवासी अंकिता के पिता आशीष सिंह ने सांसद के बेटे आयुष व उसके भाई पर बेटी को अगवा करने का आरोप लगाया है। उन्होंने पुलिस कमिश्नर को बताया कि साल 2020 में उनकी बेटी अंकिता और सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष ने शादी की थी। शादी के बाद बेटी आयुष के साथ लखनऊ के वृन्दावन कालोनी में रहने लगी।

सांसद के बेटे पर अपहरण का आरोप

कुछ महीने पहले ही आयुष ने किसी विवाद में अपने दुश्मनों को फंसाने के लिए खुद पर गोली चलवाई थीं। इस साजिश में उसने अंकिता के भाई और अपने साले आदर्श को शामिल किया और उससे खुद पर गोली चलवाई। बाद में जब मामले ने तूल पकड़ा और जांच शुरू हुई तो खुलासा हुआ और मड़ियांव पुलिस ने आदर्श को गिरफ्तार कर लिया।


जिसके बाद आयुष ने भी मड़ियांव थाने में आत्मसमर्पण कर दिया। इस घटना के बाद से सांसद के बेटे और बहु के बीच तनाव देखने को मिलना शुरू हो गया। दोनों एक दूसरे पर सार्वजनिक तौर पर आरोप लगाते दिखे।

सांसद के बेटे के खिलाफ अंकिता के पिता ने दी तहरीर

इसके बाद सांसद और उनकी विधायक पत्नी जय देवी का बयान भी सामने आया, जिन्होंने अंकिता को अपनी बहू मानने से ही इनकार कर दिया। उनका कहना था कि बेटे आयुष से अंकिता की शादी हुई ही नहीं है। मामला उस समय संगीन हो गया जब अंकिता ने मार्च में आत्महत्या की कोशिश की थी।

वहीं, इस समय ये मामला कोर्ट में है, जिसकी पेशी के लिए अंकिता 16 जून को लखनऊ जिला सत्र न्यायालय जाने के लिए निकली, लेकिन कोर्ट में पहुंची नहीं। इस बात की जानकारी उनके वकील ने दी। पीडित पिता के मुताबिक, उसी रात अंकिता ने किसी अनजान नम्बर से मैसेज किया थी कि आयुष, उसके भाई विकास किशोर और दोस्त अरमान गाजी ने उसका अपहरण कर लिया है। मामले में पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने जांच करवाने की बात कही है।

Shivani

Shivani

Next Story