Top

अमेठी में एक ही परिवार के 11 लोगों की हत्या, घटना की वजह साफ नहीं

aman

amanBy aman

Published on 4 Jan 2017 5:31 AM GMT

अमेठी में एक ही परिवार के 11 लोगों की हत्या, घटना की वजह साफ नहीं
X
murder several people of same family in allahabad uttar pradesh
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अमेठी: जिले के बाजार शुकुल थाना क्षेत्र के महोना पश्चिम गांव से एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। यहां एक ही परिवार के 11 लोग घर पर मृत पाए गए हैं। परिवार के मुखिया जमालुद्दीन की लाश फंदे से लटकी मिली है जबकि परिवार के बाकी सदस्यों की गला रेतकर हत्या की गई है। जानकारी के अनुसार, इलाके में इतनी बड़ी घटना पहले कभी नहीं हुई है। मृतकों 2 महिलाएं, 1 पुरुष और 8 बच्चे शामिल हैं।

ये भी पढ़ें ...पिता ने की नाबालिग बेटी से रेप की कोशिश, इज्जत बचाने के लिए कर दी हत्या

-घटना की जानकारी मिलने के बाद डीआईजी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच चुकी है।

-ग्रामीणों को आशंका है कि परिवार के मुखिया ने सभी को नशीला पदार्थ खिलाने के बाद उनका गला रेत डाला।

-बाद में उसने फांसी लगाकर जान दे दी।

-जमालुद्दीन बैटरी का काम करता था।

-मरने वालों में 2 बच्चे उसके भाई के हैं और बाकी जमालुद्दीन के।

-परिवार की महिला को गंभीर हालत में जगदीशपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है।

-उसके होश में आते ही मामले की वजह साफ होने की उम्मीद है।

ये भी पढ़ें ...दो पार्ट में मिला 3 माह के बच्‍चे का शव, ग्रामीणों ने आवारा कुत्‍ते से छुड़ाया

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story