×

Meerut Crime: खून के लिए किया बच्चे का अपहरण, जानें अपराध का अजीबो-गरीब मामला

Meerut Crime: उत्तर प्रदेश के मेरठ जनपद में अपहरण की हुई एक अजीबो-गरीब वारदात में बदमाशों ने एक 12 साल के बच्चे का अपहरण कर दो यूनिट खून निकालने के बाद बच्चे रिहा कर दिया।

Sushil Kumar
Written By Sushil KumarPublished By Pallavi Srivastava
Updated on: 2021-08-23T12:37:52+05:30
Crime news
X

बच्चे का अपहरण (सांकेतिक फोटो)  pic(social media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Meerut Crime : अभी तक बदमाश मोटी रकम के लिए अपहरण की वारदात को अंजाम देते थे। लेकिन उत्तर प्रदेश के मेरठ जनपद में अपहरण की हुई एक अजीबो-गरीब वारदात में बदमाशों ने एक 12 साल के बच्चे का अपहरण कर दो यूनिट खून निकालने के बाद बच्चे रिहा कर दिया। घटना शहर से सटे थाना पल्लवपुरम क्षेत्र की है।

दरअसल मोदीपुरम में पल्लवपुरम फेज-दो स्थित नालंदा स्कूल के पास से दोपहर में पल्लवपुरम फेज-दो निवासी लाल सिंह के 12 वर्षीय बेटे वंश का अपहरण हो गया। लाल सिंह हलवाई का काम करते हैं। घटना से परिजनों में अनहोनी की आशंका से दहशत के साथ चिंता बढ़ गई। लाल सिंह ने पुलिस को जो कुछ बताया उसके अनुसार रविवार अपरान्ह करीब चार बजे वंश अपने दोस्त के घर जाने की बात कहकर घर से गया था। लेकिन वंश न तो अपने दोस्त के घर पहुंचा और न ही वापस अपने घर आया। इस पर परिजनों ने नाते-रिश्तेदारों और पड़ोस में वंश को तलाश किया, मगर सुराग नहीं लगा। थकहार कर रविवार देर शाम को पल्लवपुरम थाने में परिजनों द्वारा तहरीर दी गई। पुलिस बच्चे की तलाश में जुट गयी। परिजनों को राहत तब मिली जब करीब चार घंटे बाद रात को वंश अपने घर पहुंचा।

बच्चे का अपहरण कर खून निकाला (सांकेतिक फोटो) pic(social media)

बत दें कि परिजनों द्वारा वंश के लौटने की सूचना तुरन्त पुलिस को दी गई। वंश ने पुलिस को जो बताया, उसे सुनकर सभी के होश फाख्ता हो गए। बच्चे की मानें तो उसे पल्लवपुरम फेज-दो में नालंदा स्कूल के पास पल्सर बाइक सवार दो युवक आए और उसके मुंह पर रूमाल रख दिया। बच्चा बेसुध हो गया, जब होश आया तो वह एक गांव के जंगल में था। जहां पहले से दो, तीन बच्चे और चारपाईं पर लेटे हुए थे। पिता ने बताया कि वंश ने उन्हें बताया है कि बदमाशों द्वारा उसके शरीर से दो बोतल खून निकाला गया। बदमाशों ने वंश से कहा कि पुलिस को बताया तो अंजाम बुरा होगा। उसके बाद पल्सर बाइक से दो युवक पल्लवपुरम में आरएन इंटरनेशनल स्कूल के पास कब्रिस्तान के सामने छोड़कर भाग गए। जहां से वंश पैदल अपने घर पहुंचा। इंस्पेक्टर पल्लवपुरम देवेश शर्मा ने बताया कि बच्चे के बयान दर्ज किए गए हैं। उसके आधार पर बदमाशों की तलाश की जा रही है।

Pallavi Srivastava

Pallavi Srivastava

Next Story