Top

Barabanki Crime News: मुख्तार अंसारी का गुर्गा मोहम्मद जाफरी गिरफ्तार, पुलिस ने रखा था 25 हजार का इनाम

मुख्तार अंसारी एंबुलेंस मामले में लंबे समय से फरार चल रहे अली मोहम्मद जाफरी उर्फ शाहिद को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

Sarfaraz Warsi

Sarfaraz WarsiReport Sarfaraz WarsiShashi kant gautamPublished By Shashi kant gautam

Published on 12 July 2021 3:50 AM GMT

In the Mukhtar Ansari ambulance case, Mohd. Jafri aka Shahid Arrested
X

 मुख्तार अंसारी एंबुलेंस मामले में मो. जाफरी उर्फ शाहिद गिरफ्तार: डिजाईन फोटो- सोशल मीडिया

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Barabanki Crime News: चर्चित मुख्तार अंसारी एंबुलेंस मामले में पुलिस को एक और कामयाबी मिली है। लंबे समय से फरार चल रहे मुख्तार के गुर्गे अली मोहम्मद जाफरी उर्फ शाहिद को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। शहर कोतवाली पुलिस ने उसे मयूर विहार से दबोचा है। बता दें कि शाहिद फर्जी पते पर एम्बुलेंस पंजीकरण मामले में आरोपी है। पुलिस ने उसके ऊपर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। एम्बुलेंस मामले अब तक कुल 7 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

कैंसिल किया गया एंबुलेंस का रजिस्ट्रेशन

बता दें कि बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के जाली कागजात पर रजिस्टर्ड एंबुलेंस का रजिस्ट्रेशन कैंसिल किया जा चुका है। जिसे मऊ के श्याम संजीवनी हॉस्पिटल के नाम से रजिस्टर्ड कराया गया था। जिसके बाद अब यह एंबुलेंस कभी वैध रूप से सड़क पर नहीं दौड़ सकेगी।

मऊ की अस्पताल संचालिका डॉ. अलका राय पर मुकदमा दर्ज

आपको बता दें कि मुख्तार अंसारी की इस एंबुलेंस का किस्सा 31 मार्च, 2021 को सामने आया था। जांच के बाद 2 अप्रैल, 2021 को इस मामले में मऊ की अस्पताल संचालिका डॉ। अलका राय पर बाराबंकी नगर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया। यही नहीं बाराबंकी पुलिस की टीम ने पंजाब से पांच अप्रैल, 2021 को इस एंबुलेंस को भी बरामद भी कर लिया था। उसके बाद बाराबंकी पहुंची यह एंबुलेंस नगर कोतवाली के माल खाने में दाखिल है और परिसर में दूसरे वाहनों के बीच खड़ी कंडम हो रही है।

मऊ की अस्पताल संचालिका डॉ. अलका राय: फोटो- सोशल मीडिया


इस मामले में इतने लोगों की हुई गिरफ्तारी

इस एंबुलेंस मामले के नगर कोतवाली में दर्ज मुकदमे में अब तक पुलिस अस्पताल संचालिका डॉ। अलका राय, शेषनाथ राय, मो। सैयद मुजाहिद, राजनाथ यादव, आनंद यादव के साथ एंबुलेंस चालक सलीम, शाहिद को पुलिस गिरफ्तार करके जेल भेज चुकी है। जबकि मुख्तार अंसारी बांदा जेल में बंद है। इसके अलावा पुलिस अभी सुरेंद्र शर्मा और अफरोज की तलाश में जगह-जगह दबिश दे रही है।

अली मोहम्मद जाफरी उर्फ शाहिद भी हुआ गिरफ्तार

वहीं, मुख्तार अंसारी और बचाव पक्ष के अधिवक्ता रणधीर सिंह सुमन का कहना है कि पुलिस फ़र्ज़ी मामला बना रही है। ये एम्बुलेंस न मुख्तार अंसारी की है, न पकड़े गए आरोपी शाहिद से इसका कोई संबंध है। पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कि अली मोहम्मद जाफरी उर्फ शाहिद को गिरफ्तार कर लिया गया है। ये 25 हज़ार का इनामी था। विधिक कार्यवाही कर इसे जेल भेजा जा रहा है। अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story