Top

लड़का, लड़की लेकर भागा तो हुई हत्या...'हिंदू युवा वाहिनी' पर लग रहा आरोप

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 2 May 2017 12:45 PM GMT

लड़का, लड़की लेकर भागा तो हुई हत्या...हिंदू युवा वाहिनी पर लग रहा आरोप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बुलंदशहर : हिंदूवादी संगठन एक बार फिर चर्चा में हैं। कथित तौर पर यूपी के बुलंदशहर जिले में, एक संगठन के कार्यकर्ताओं ने अल्पसंख्यक समुदाय के बुर्जग की लाठी-डंडों से पीटकर हत्या कर दी है। इसके बाद इलाके में तनाव बना हुआ है। किसी अप्रिय घटना से निपटने के लिए गांव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। वहीं, सूचना मिलते ही मेरठ डीआईजी और डीएम और एसएसपी बुलंदशहर ने घटनास्थल पर हालात का जायजा लिया।

ये भी देखें :मुंह में ब्लेड लेकर चलता है ये अपराधी, इसको पकड़ने से डरती है पुलिस, जानिए कौन है वो

मामला पहासू थाना क्षेत्र के गांव सोही का है। यहां एक हफ्ते पहले एक अल्पसंख्यक समुदाय का युवक दूसरे संप्रदाय की युवती को भगा कर अपने साथ ले गया था। युवती के परिजनों ने युवक को नामजद करते हुए थाने में रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी। लेकिन युवक और युवती की कोई जानकारी नही मिल सकी।

लड़की पक्ष के लोग मानते थे कि गुलाम अहमद उस परिवार से जुड़ा हुआ है, और उनकी मदद कर रहा है। आरोप है कि इस बात से नाराज होकर लड़की पक्ष और हिंदू युवा वाहनी के कार्यकर्ताओं ने लड़के के घर में घुसकर तोड़फोड़ की।

इसके बाद बलवाई गुलाम अहमद को घर से उठाकर जंगल में ले गए और लाठी-डंडों से पिटाई की, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वहां से गुजर रहे कुछ लोगों के शोर मचाने के बाद आरोपी वहां से फरार हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

मृतक के परिजनों के मुताबिक घटना को अंजाम देने वाले लोग हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए डीएम रोशन जैकब, एसएसपी मुनीराज और मेरठ रेंज के डीआईजी सुनील इमुनेएल ने भी घटना स्थल का निरीक्षण किया। एसएसपी ने बताया कि घटना के बारे में जानकारी ली जा रहा है। कुछ लोगों के नाम सामने आए हैं। दो टीम गठित कर गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे है।

वहीँ डीएम रोशन जैकब ने बताया कि संदिग्ध लोगों के नाम सामने आए है, उन्हें जल्दी ही अरेस्ट किया जायेगा। डीएम ने बताया कि अभी किसी हिंदूवादी संगठन का नाम सामने नहीं आया है। अगर पुष्टि होती है, तो किसी को भी बक्शा नहीं जायेगा।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story