Top

विवाद में पीटने के बाद महिला के प्राइवेट पार्ट में डाला डंडा, शरीर पर भी गंभीर चोटें

aman

amanBy aman

Published on 18 Sep 2016 10:51 AM GMT

विवाद में पीटने के बाद महिला के प्राइवेट पार्ट में डाला डंडा, शरीर पर भी गंभीर चोटें
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर देहात: मामूली विवाद में पड़ोसियों ने एक महिला को बंधक बनाकर पीटा और उसके प्राइवेट पार्ट में डंडा डाल दिया। इससे महिला की हालत बिगड़ गई। ब्लीडिंग रुकता न देख होने परिजनों ने पीड़िता को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया।

जिला अस्पताल की सीएमएस ने बताया कि पीड़िता को ब्लीडिंग रोकने के लिए टांके लगाए गए हैं। उसके शरीर पर भी गंभीर चोटों के कई निशान हैं।

ये है मामला?

-मंगलपुर थाना क्षेत्र के रतिपुरवा गांव का मामला।

-गांव निवासी पुलकित (काल्पनिक नाम) पत्नी नेहा (26 वर्ष) (काल्पनिक नाम) और मां के साथ रहते हैं।

-पुलकित खेती कर अपने परिवार का पालन पोषण करता है।

-पुलिकत के पड़ोस में रहने वाले राम औतार के परिवार से बकरी के चारा खाने पर विवाद हो गया था।

-इसके बाद से राम औतार का परिवार पुलकित के परिवार से खुन्नस रखता था।

ये भी पढ़ें ...चलती ट्रेन में दलित महिला से गैंगरेप के बाद बदमाशों ने फेंका बाहर, पैर कटा

ऐसे दिया घटना को अंजाम

-नेहा ने बताया कि दोपहर के वक्त वह जानवरों को चारा देने गई थी

-इसी दौरान राम औतार पत्नी के साथ आया और मुझे जबरन अपने घर ले गया।

-कमरे में ले जाकर राम औतार, पत्नी कमला और उसकी बेटी ने पहले जमकर पीटा।

-इसके बाद उन्होंने नेहा के प्राइवेट पार्ट में डंडा डाल दिया।

-किसी तरह वहां से भागकर नेहा घर आई और अपनी सास को पूरी घटना बताई।

-पति ने नेहा को जिला अस्पताल में भर्ती कराया और पुलिस को सूचना दी।

ये भी पढ़ें ...एक ही परिवार के 5 लोगों की गला रेत कर हत्या, पुलिस ने 2 को किया अरेस्ट

ये बताया सीएमएस ने

-जिला अस्पताल की सीएमएस अर्चना श्रीवास्तव के मुताबिक महिला को अस्पताल लाया गया था।

-उस वक्त उसकी हालत बहुत गंभीर थी।

-ब्लीडिंग रुकने का नाम नहीं ले रहा था। इसलिए उसके प्राइवेट पार्ट में चार टांके लगाने पड़े।

-उपचार के दौरान पीड़िता के शरीर पर गंभीर चोटों के कई निशान भी मिले।

क्या कहना है एडीशनल एसपी का?

एडीशनल एसपी मनोज सोनकर के मुताबिक 'महिला के परिजनों की तहरीर पर केस दर्ज कर लिया गया है। आरोपियों की तलाश जारी है। दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।'

ये भी पढ़ें ...छेड़खानी से परेशान दलित युवती ने लगा ली आग, इलाज के दौरान मौत

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story