Top

जेवर गैंगरेप-हत्या कांड में नया मोड़, CMO ने कहा- प्राइमरी रिपोर्ट में नहीं हुई रेप की पुष्टि

कोतवाली जेवर क्षेत्र में बुलंशहर मार्ग पर सबौता गांव के पास 24 मई की रात मानवता को शर्मसार करने वाली हुई घटना मामले में शुक्रवार (26 मई) को नया मोड़ आ गया। नोएडा पुलिस ने प्रेस कांफ्रेंस कर पीड़ित महिलाओं के साथ रेप की घटना होने से इंकार किया है। पुलिस की प्रेस कांफ्रेंस में सीएमओ अनुराग भार्गव ने इसका खुलासा किया कि प्राइमरी रिपोर्ट में रेप की पुष्टि नहीं हुई है। हालांकि, विस्तृत जांच के लिए स्लाइड लखनऊ भेजी गई है। सीएमओ ने बताया कि, महिलाओं के शरीर पर चोट के भी निशान नहीं मिले हैं। बता दें, कि पीड़ित चार महिलाओं ने अपने साथ गैंगरेप होने का आरोप लगाया था।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 26 May 2017 1:43 PM GMT

जेवर गैंगरेप-हत्या कांड में नया मोड़,  CMO ने कहा- प्राइमरी रिपोर्ट में नहीं हुई रेप की पुष्टि
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

ग्रेटर नोएडा : कोतवाली जेवर क्षेत्र में बुलंशहर मार्ग पर सबौता गांव के पास 24 मई की रात मानवता को शर्मसार करने वाली हुई घटना मामले में शुक्रवार (26 मई) को नया मोड़ आ गया। नोएडा पुलिस ने प्रेस कांफ्रेंस कर पीड़ित महिलाओं के साथ रेप की घटना होने से इंकार किया है।

पुलिस की प्रेस कांफ्रेंस में सीएमओ अनुराग भार्गव ने इसका खुलासा किया कि प्राइमरी रिपोर्ट में रेप की पुष्टि नहीं हुई है। हालांकि, विस्तृत जांच के लिए स्लाइड लखनऊ भेजी गई है। सीएमओ ने बताया कि, महिलाओं के शरीर पर चोट के भी निशान नहीं मिले हैं। बता दें, कि पीड़ित चार महिलाओं ने अपने साथ गैंगरेप होने का आरोप लगाया था।

पीड़ित महिला बदला बयान

इससे पहले गुरुवार सुबह इस मामले में उस समय नया मोड़ आ गया था जब पीड़ित महिला जिसने इस कांड में पड़ोसी के शामिल होने की बात कही थी, वह शुक्रवार को अपने बयान से पलट गई। पीड़ित महिला का कहना था कि, उसने बदहवास होकर यह बयान दे दिया। जिसके बाद पीड़ित पक्ष ने पड़ोसी पर लगाए आरोप की शिकायत वापस ले ली।

सीएमओ ने क्या कहा की स्लाइड्स में जानें...

पीड़ित परिवार में रोष

उधर नोएडा पुलिस अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। एसएसपी लव कुमार ने बताया इस मामले की जांच के लिए छह टीमें बनाई गई है। अभी तक पुलिस ने बदमाशों का स्कैच भी जारी नहीं कर पाई है। बदमाशों की गिरफ्तारी नहीं होने से पीड़ित परिवार के लोगों में भारी रोष है।

गौरतलब है कि, जेवर के रहने वाले पीड़ित परिवार के रिश्तेदार की तबियत खराब थी। वह बुलंदशहर के एक अस्पताल में भर्ती थी। उसे देखने के लिए कुरैशी परिवार के 8 लोग बुधवार रात बुलंदशहर जा रहे थे। इस दौरान सबौता गांव के पास अज्ञात बदमाशों ने उसकी ईको कार के टायर को गोली मारकर बर्स्ट कर घटना को अंजाम दिया।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में ये कहा सीएमओ डॉ अनुराग भार्गव ने:

-3 बजकर 8 मिनट था घटना का समय।

-3 बजकर 40 मिनट पर पुलिस पहुंची पीड़ितों के पास।

-पुलिस हुलिए और भाषा शैली के आधार पर जांच कर रही है।

-फोन की लोकेशन के आधार पर पुलिस की जांच जारी है।

-12 बोर की गोली से मौत हुई थी शकील की मौत।

ये कहा एसएसपी लव कुमार ने :

-किसी भी महिला के प्राइवेट पार्ट पर चोट के निशान नहीं हैं।

-सैंपल जांच के लिए लखनऊ भेज दिया गया है।

-रेप की पुष्टि अभी तक नहीं।

-फॉरेंसिक जांच के लिए सैंपल आगे भेजे गए हैं। 10 से 15 दिन लगेंगे जांच में।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story